Samachar Nama
×

Lucknow : चार मंजिला इमारत गिरी, कई लोग मलबे में दबे, 12 लोगों को बचाया, सर्च ​अभियान जारी !

Lucknow : चार मंजिला इमारत गिरी, कई लोग मलबे में दबे, 12 लोगों को बचाया, सर्च ​अभियान जारी !
उत्तर प्रदेश नयूज डेस्क !!! उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के वजीर हसन रोड स्थित चार मंजिला अलाया अपार्टमेंट मंगलवार को अचानक गिर गई। इस हादसे में कई लोगो की दबे होने की सूचना है। जिसमें से 12 लोगों को बचा लिया गया है। प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद ने बताया कि मंगलवार को राजधानी में देर शाम को एक बिल्डिंग गिर जाने से कई लोग मलबे में दब गए हैं, जिनमे से 12 लोगो को सुरक्षित बचा लिया गया है। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों की जानकारी के अनुसार बिल्डिंग के मलबे में अभी 6 से 7 लोगों की दबे होने की सूचना है। अभी तक किसी प्रकार की कैजुअल्टी की कोई सूचना नहीं है। राहत बचाव का काम जारी सभी को सकुशल बचाने की पूरी संभावना है। स्थानीय लोगों ने बताया कि बिल्डिंग के अंदर बेसमेंट की खुदाई चल रही थी, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ है। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि भूकंप की वजह से बिल्डिंग में दरार आ गई थी। हालांकि हादसा हुआ किस वजह से अभी यह साफ नहीं है।

हालांकि, इमारत के ढहने का अंदाजा किसी को भी नहीं था। यह हादसा यकायक हुआ है। वहीं, सूचना मिलने पर मौके पर एसडीआरएफ, एनडीआरएफ और फायर ब्रिगेड की टीमें पहुंच गई, जो बचाव कार्य में जुटी हैं।इधर, हादसे की खबर मिलते ही उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक भी घटनास्थल पर जा पहुंचे। राहत और बचाव कार्य तेजी से चल रहा है और घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। उन्होंने कहा कि घायलों को बचाने की दिशा में तेजी से प्रयास किये जा रहे हैं। जेसीबी से मलबा हटाया जा रहा है। पुलिस, फायर व एनडीआरएफ के जवाब मुस्तैदी से लोगों को जीवित निकालने में जुटे हैं। ईश्वर सभी की रक्षा करें।

घटना की जानकारी होने के बाद तुरंत मौके पर पहुंचे उप मुख्यमंत्री ने कहा कि घटनास्थल पर स्वास्थ्य विभाग की कई टीमे लगाई गई हैं। जो घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद कर रही हैं। आधा दर्जन से अधिक एम्बुलेंस मौके पर लगा दी गई हैं। केजीएमयू व सिविल अस्पताल समेत दूसरे अस्पतालों को गंभीर घायलों को भर्ती करने के निर्देश दिए गए हैं। हर स्थितियों में हम लोग सभी को बचाने में जुटे हैं। हम लोग हर एक को जीवित बचाने में लगे हैं। अत्याधुनिक मशीनों को भी मंगाया गया है। ब्लड बैंकों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। वरिष्ठ चिकित्सकों को अस्पताल में बने रहने का निर्देश दिए गए हैं। अलाया अपार्टमेंट गिरने के कारणों का पता लगाया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने बताया कि कारणों का पता लगने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। अभी हमारी प्राथमिकता घायलों को जीवित बचाने की है। उन्हें बेहतर उपचार मुहैया कराने की कोशिश है। सभी घायलों को मुफ्त इलाज उपलब्ध कराया जा रहा है।

--आईएएनएस

लखनउ न्यूज डेस्क !!! 

विकेटी/एएनएम

Share this story