×

Chittorgarh भंडार से 8 चक्र में 7.39 करोड़ निकले, श्रद्धालु ने चांदी से बने दो हाथी व दो मोर भेंट किए

सांप

राजस्थान न्यूज डेस्क, 5 अगस्त को खोले गए कृष्णधाम सांवलियाजी के भंडार से भेंट राशि की गणना 10 दिन बाद मंगलवार को पूरी हुई। 7 करोड़ 39 लाख 20 हजार 315 रुपए भेंट गणना के बाद भंडार से राशि निकली है। इधर, भक्तों के आए दिन भगवान को चांदी से बनी अलग-अलग तरह की वस्तुएं भेंट करने का क्रम जारी है। मंगलवार को भेंटकक्ष में लकड़ी पर चांदी की पतरा चढ़े दो हाथी व दो मोर भेंट स्वरूप जमा हुए। लकड़ी सहित वजन 1100 ग्राम है।  कन्हैयादास वैष्णव मंदिर मंडल के अध्यक्ष ने बताया की दान पेटी के पैसों की गणना मंगलवार को आंठवे चक्र में समाप्त हुई है.

   मंदिर मंडल अध्यक्ष कन्हैयादास वैष्णव, सदस्य भैरूलाल सोनी व प्रशासनिक अधिकारी कैलाश चंद्र दाधीच की उपस्थिति में राजभोग आरती के बाद गणना से वंचित दानराशि की गणना आरंभ हुई। मंदिर मंडल के कैशियर नंदकिशोर टेलर, मंदिर प्रभारी राजेंद्र शर्मा, संस्थापन प्रभारी लहरी लाल धनगर, गुलाबसिंह, सुरक्षा प्रभारी रामसिंह चौहान आदि के सानिध्य में मंदिर कर्मियों ने सिक्कों की गणना की। मंगलवार को 87 हजार 681 रुपए प्राप्त हुए। पहले 7 चक्रों में 7 करोड़ 38 लाख 32 हजार 634 रुपए की गणना की जा चुकी थी। अब तक भंडार से 7 करोड़ 39 लाख 20 हजार 315 रुपए निकले हैं।

भेंट कक्ष में नकदी, सोना-चांदी से बनी अलग-अलग वस्तुएं भेंट की

इस माह के भंडार से मुख्य दिवस पर 1 किलो 19 ग्राम सोना, 3 किलो 300 ग्राम चांदी, करीब 10 लाख रुपए मूल्य की विदेशी मुद्रा भी प्राप्त हुई थी। इसी माह में कार्यालय व भेंटकक्ष में नकद व ऑनलाइन माध्यम से 72 लाख 71 हजार रुपए की प्राप्ति हुई। करीब 390 ग्राम सोना व 5 किलो 521 ग्राम चांदी के आइटम जमा हुए।

Share this story