×

JODHPUR  आसाराम की तबीयत फिर हुई नासाज, जांच के लिये एम्स लाया गया, समर्थकों की भीड़ उमड़ी

Angry cow attacked firefighter, see what happened next in the video

राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! आसाराम को मेडिकल जांच के लिये एम्स अस्पताल  लाया गया है. सूचना पर बासनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची है. पुलिस एम्स में मौजूद आसाराम के समर्थकों को समझाइश कर बाहर निकालने का प्रयास कर रही है. आसाराम की क्या-क्या मेडिकल जांचें हो रही है इसका अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है. आसाराम की हाल ही के दिनों में कई बार तबीयत खराब हो चुकी है. खबरों से प्राप्त जानकर के अनुसार बताया जा रहा है कि,आसाराम अपनी ही शिष्या के यौन उत्पीड़न के मामले में जोधपुर सेंट्रल जेल में जीवन की आखिरी सांस तक की सजा काट रहे हैं. पिछले दिनों भी जब आसाराम की तबीयत खराब हुई थी तब अस्पताल में भर्ती कराया गया था. आसाराम का महात्मा गांधी चिकित्सालय और एम्स में इलाज चला था.

आसाराम ने आयुर्वेद इलाज कराने के इच्छा जता रखी है. इसके लिये उसने हाईकोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया था. आपकी जानकारी के लिए बता दे की, 80 वर्षीय आसाराम कोरोना होने के बाद से लगातार स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से घिर हुये हैं. पिछले दिनों जब आसाराम को जिला न्यायालय में पेश किया गया तो वह कमजोर नजर आ रहे थे. वहां आसाराम को चलने के लिये पुलिसकर्मियों का सहारा लेना पड़ा था. जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद आसाराम की तबीयत एक बार फिर से नासाज हो गई हैआसाराम शुरू से ही आयुर्वेदिक उपचार लेते रहे हैं. आसाराम को जब गिरफ्तार किया गया तो उन्हें आयुर्वेदिक दवाएं देने के लिए उनकी वैद्य नीता जोधपुर आई थी.न शोषण के मामले की सुनवाई के दौरान भी आसाराम को एक बार आयुर्वेद विश्वविद्यालय में भर्ती करवाया गया था. वहीं सजा मिलने के बाद अब बीमार होने पर आसाराम को कोर्ट के निर्देश पर जोधपुर सेंट्रल जेल में आयुर्वेदिक उपचार दिया जा रहा है. उनका उपचार डॉक्टर अरुण त्यागी कर रहे हैं. कोरोना के बाद से आसाराम को नियमित चेकअप के लिए भी ले जाया जाता है. आसाराम पूर्व में यूरिन इन्फेक्शन और पेट से जुड़ी परेशानियां से ग्रसित भी रहे हैं. सूत्रों की मानें तो आज एक बार फिर आसाराम को जांच के लिए एम्स लाया गया. वहां जांच के बाद उन्हें वापस जेल ले जाया गया है.

Share this story