×

JHUNJHUNU सांवरमल ने मास्टरमाइंड के साथी महेंद्र से दोस्ती के चलते पैसों के लालच में आकर बोगस स्टूडेंट बन दी नीट परीक्षा

GANGANAGAR

राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार किया है।खबरों से प्राप्त जानकर के अनुसार बताया जा रहा है कि,इस मामले में मास्टर माइंड समेत नौ लोग गिरफ्तार हुए हैं। सांवरमल सोनी पहली बार इस गैंग में शामिल हुआ। सांवरमल रविवार को जयपुर के एलबीएस कॉलेज में परीक्षा दे रहा था।प्रदेश में नीट एग्जाम पेपर लीक के मामले में गिरोह के तार झुंझुनूं से भी जुड़े हैं। जिले के भड़ाैंदा कलां गांव का एक मेडिकल छात्र सांवरमल साेनी इस मामले में बोगस अभ्यर्थी बनकर परीक्षा दे रहा था।  इस काम के लिए दो से तीन लाख रुपए मिलने वाले थे। वह मास्टर माइंड के लिए काम करने वाले नीमकाथाना के महेंद्र सैनी का दोस्त है।

सिलेबस पर उसकी अच्छी पकड़ है। नीमकाथाना निवासी महेंद्र सैनी पांच साल पहले आरपीएमटी की तैयारी के लिए कोटा गया था।इन लोगों का संपर्क हुआ। पेपर लीक करवाने और दूसरे अभ्यर्थी बैठाकर परीक्षा दिलवाने वाला गिरोह होशियार मेडिकल छात्रों से ही संपर्क करता है। सांवरमल से भी संपर्क किया गया। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि, सामने आया है कि सांवरमल पढ़ाई में होशियार है। इसकी एवज में उसे दो से तीन लाख रुपए देने का लालच भी दिया गया। इसी लालच में वह आ गया। हालांकि पुलिस को अभी तक सांवरमल के खिलाफ पहले का कोई ऐसा मामला नहीं मिला है, लेकिन अब पुलिस उसकी पूरी छानबीन कर रही है कि वह क्यों और कैसे इन लोगों के संपर्क में आया।

 पांच पेपर लीक करवाते थे और दो सांवरमल की तरह ही बोगस अभ्यर्थी बनकर परीक्षा देते थे।आरोपी सांवरमल बनारस से मेडिकल काॅलेज में बीएमएस कर रहा है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसके परिजनाें काे फाेन कर जानकारी दी। उसका पिता नत्थूराम साेनी गांव में ज्वैलरी की दुकान चलाता है। सांवरमल तीन भाइयाें में दूसरे नंबर है। उससे छाेटा भाई नेवी में है। दस दिन पहले ही वह गांव आकर गया है। इस पूरे मामले में सीकर के भी सात जने गिरफ्तार हुए हैं। परिवार में किसी को यकीन ही नहीं हुआ कि वह इस तरह के अपराध में शामिल है।

Share this story