Samachar Nama
×

राजदूत Emmanuel Lenin ने कहा, फिल्मों के सह-निर्माण में भारत के साथ काम करना चाहता है फ्रांस !

राजदूत Emmanuel Lenin ने कहा, फिल्मों के सह-निर्माण में भारत के साथ काम करना चाहता है फ्रांस !
पणजी न्यूज डेस्क् !!! भारत में फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनैन ने कहा कि फ्रांस सह-निर्माण में भारत के साथ काम करना चाहता है, क्योंकि फ्रांस दुनिया के सबसे बड़े फिल्म उद्योगों में से एक है। लेनैन ने सोमवार को मुंबई में फ्रांस के महावाणिज्य दूत जीन-मार्क सेरे-शार्लेट और शिक्षा, विज्ञान और संस्कृति के काउंसलर और भारत में फ्रेंच इंस्टीट्यूट के निदेशक इमैनुएल लेब्रन डेमियन्स के साथ भारत के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) में भाग लिया।लेनिन ने कहा, भारत दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म उद्योग है, हम फिल्मों के लिए एक साथ काम करना चाहते हैं और एक साथ सह-निर्माण करना चाहते हैं। हम सह-निर्माण को प्रोत्साहित करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।फेस्टिवल में फ्रांस स्पॉटलाइट देश है और इसके कंट्री फोकस पैकेज के तहत इसकी कई फिल्में दिखाई जाएंगी।

फिल्मों का सिलसिला इमैनुएल कारेरे की बिटवीन टू वल्र्डस (ओइस्ट्रेहैम) से शुरू हुआ।लेनिन ने एक फ्रांसीसी फिल्म प्रतिनिधिमंडल की शुरूआत की, जो अपने पूर्वजों पर एक फिल्म बनाने की प्रक्रिया में हैं, जो नेपोलियन की सेना में अधिकारी थे और वाटरलू की लड़ाई में अपनी हार के बाद भारतीय शासकों को अंग्रेजों के खिलाफ लड़ने में मदद करने के लिए भारत आए थे।लेनिन ने इस संबंध में कहा कि यह फिल्म दोनों देशों के बीच लंबे समय से चली आ रही दोस्ती को दर्शाएगी।उन्होंने इस वर्ष गोवा में महोत्सव में उनकी भागीदारी से उभरने वाली नई परियोजनाओं के बारे में भी आशा व्यक्त की है।उन्होंने कहा, हमें लगता है कि भारत की तरह हम भी सिनेमा के मामले में महान देश हैं, जहां हर साल 300 से ज्यादा फिल्में बनती हैं। उन्होंने कहा कि लंचबॉक्स, सर और अन्य जैसी इंडो-फ्रेंच संयुक्त निर्माण फिल्में उत्कृष्ट सफलताएं थीं।

--आईएएनएस

गोवा न्यूज डेस्क् !!! 

पीजेएस/एएनएम

Share this story