Samachar Nama
×

Delhi में पार्टियों ने राजेंद्र नगर उपचुनाव में क्षेत्र के लोगों से मतदान करने की अपील की

Delhi में पार्टियों ने राजेंद्र नगर उपचुनाव में क्षेत्र के लोगों से मतदान करने की अपील की

दिल्ल न्यूज डेस्क !!! दिल्ली राजेंद्र नगर विधानसभा उपचुनाव को लेकर मतदाताओं ने सुबह से ही पोलिंग बूथ पर आकर मतदान करना शुरू कर दिया है। क्षेत्र के 21 विभिन्न स्थानों पर कुल 190 मतदान केंद्र हैं, राजेंद्र नगर से विधायक रहे राघव चड्ढा के राज्यसभा जाने के बाद यह सीट खाली हुई, इस कारण यहां उपचुनाव कराए जा रहे हैं। राघव सुबह 9 बजे मतदान करने पहुंचे। उन्होंने कहा, "मुझे दो साल अपनी कर्मभूमि, जन्मभूमि राजेंद्र नगर की सेवा करने का मौका यहां के लोगों ने दिया। मेरा यह विश्वास है कि आगे आने वाले समय में भी यहां के लोग ऐसे लोगों को मौका देंगे, काम की रफ्तार को रोकने नहीं देंगे। क्षेत्र में और अच्छे स्कूल और मोहल्ला क्लिनिक बने। लोग भ्रष्टाचार मुक्त सरकार को वोट डालें। गर्मी का दिन है और वर्किं ग डे भी है, उसके बावजूद लोग वोट डालें।"

उन्होंने कहा, "मैं तो यहां की जनता को कहता हूं कि आपको वन प्लस वन का ऑफर मिला है। एक विधायक जो एक सांसद बन गया, अब एक और विधायक आएगा तो एक और एक की जोड़ी 11 बनकर काम करेंगे।" इस क्षेत्र में आम आदमी पार्टी ने दुर्गेश पाठक को मैदान में उतारा है, जबकि भाजपा ने राजेश भाटिया को उम्मीदवार बनाया है, जो इसी क्षेत्र के रहने वाले हैं। उधर कांग्रेस ने महिला उम्मीदवार प्रेम लता पर अपना दांव खेला है। दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा, "दिल्ली के राजेंद्र नगर विधानसभा क्षेत्र में वोट डालने जा रहे मतदाताओं से अपील करता हूं कि राजेंद्र नगर के बेहतर विकास और वहां की समस्याओं को दूर करने के लिए अपना कीमती वोट जरूर डालें।"

इसके अलावा दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा, "मेरा वोट मेरा अधिकार। आज दिल्ली की राजेंद्र नगर विधानसभा का उपचुनाव है। स्थानीय वोटर्स से अपील है कि इस उपचुनाव में अपने क्षेत्र के विकास के लिए, क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के लिए वोट देकर इस लोकतंत्र के महापर्व में भागीदार बनें।" हालंकी राजेंद्र नगर विधानसभा सीट पर पिछले दो चुनावों से 'आप' का कब्जा रहा है, साल 2015 में इस सीट से विजेंद्र गर्ग विजय ने जीत हासिल की थी और फिर साल 2020 में राघव चड्ढा ने जीत दर्ज की। निर्वाचन क्षेत्र में मतदाताओं की कुल संख्या 1,64,698 है, जिसमें 92,221 पुरुष, 72, 473 महिला और 4 थर्ड जेंडर वोटर शामिल हैं। इसके अलावा, 591 दिव्यांग मतदाता 39 दृष्टिबाधित मतदाता और 64 सेवा मतदाता भी शामिल हैं। साथ ही, नए मतदाताओं की संख्या 1,899 है। परिणामस्वरूप, लिंग अनुपात 786 है। वोट डालने के दौरान सभी मतदाताओं को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा और वोट डालते समय मास्क पहनना अनिवार्य है। मतदान के अंतिम एक घंटे का उपयोग उन मतदाताओं के लिए किया जाएगा जो कोरोना पॉजिटिव हैं और मतदान करना चाहते हैं। संक्रमित मतदाताओं के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है।

मतदान केंद्रों पर सेल्फी बूथ बनाए गए हैं, जिनके द्वारा मतदाता सेल्फी ले सकते हैं और सोशल मीडिया पर पोस्ट करके अन्य मतदाताओं को वोट डालने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं। इसके अलावा दिव्यांग मतदाताओं, वरिष्ठ नागरिकों (80 प्लस), गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए मुफ्त पिक एंड ड्रॉप सुविधा प्रदान भी की जाएगी। उपचुनाव के सुचारु संचालन के लिए केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) की छह कंपनियों को तैनात किया गया है। इसमें चार पुरुष और दो महिला बल शामिल हैं। इसके अलावा 308 दिल्ली पुलिसकर्मियों और 177 होमगार्ड को भी तैनात किया गया है।

--आईएएनएस

Share this story