×

SIKAR  पुलिस जाब्ते के बीच लाया गया कोर्ट, रिश्ते में लगने वाली भतीजी से किया था दुष्कर्म

KK

राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! कोर्ट में बयान होने के बाद ओमा को वापस जेल भेज दिया गया। आरोप था कि साल 2014 से जब वह नाबालिग थी। ओमा उसका यौन शोषण कर रहा था। जिसके बाद किसी मामले में जेल चला गया और जेल से वापस जमानत पर आने के बाद भी ओमा उसके घर आया और कमरे में उसे बुलाकर उसके साथ ज्यादती की। युवती की रिपोर्ट पर पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत ओमा को बराल से गिरफ्तार कर लिया था। ओमा ठेहट गैंग का मुख्य सदस्य है। जिसने ही गैंग के इशारे पर बीकानेर जेल में आनंदपाल और उसके साथी बलवीर बानूड़ा पर फायरिंग की थी। बलवीर बानूड़ा की मौत हो गई थी। खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि,ठेहट गैंग के हिस्ट्रीशीटर ओमा ठेहट की सोमवार को पोक्सो कोर्ट में पेशी हुई। आपकी जानकारी के लिए बता दे की,ठेहट गैंग का ओमा गैंग के मुखिया राजू का चचेरा भाई है। राजू के जेल जाने के बाद गैंग की बागडोर इसी के हाथ में थी। ओमा पर हत्या, लूट, सदर थानाधिकारी पुष्पेंद्र सिंह पर हमला करने ,आनंदपाल गैंग के शक्ति सिंह की हत्या करने का प्रयास सहित कुल दो दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं।

Share this story