×

palamu गुमला में बाल मजदूर मुक्ति संस्थान के पदाधिकारी की हत्या

dsc
 झारखण्ड न्यूज़ डेस्क बाल मजदूर मुक्ति संस्थान के पदाधिकारी मिथिलेश कुमार साहू (40) की मंगलवार की सुबह ऑफिस में घुस बदमाशों ने गोली मार व गला रेत कर हत्या कर दी।  और दो मर्डर के मामले में वो जेल भी जा चुका था। करीब 4 की संख्या में आए बदमाशों ने मिथिलेश को बाल मजदूर मुक्ति संस्थान के ऑफिस में पहले गोली मारी। इसके बाद उसका गला रेत कर भाग निकले। घटना गुमला थाना क्षेत्र स्थित गोकुल नगर की है। मिथिलेश का आपराधिक इतिहास रहा है 

इधर, घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया। मिथिलेश के पिता संजय साहू विहीप के डुमरी प्रखंड अध्यक्ष हैं। मिथिलेश मूलत: गुमला के डुमरी थाना क्षेत्र के जेयरागी का रहने वाला था। मिथिलेश खुद भी बजरंग दल का सदस्य था। मिथिलेश, गणेश साहू हत्या मामले में इसी साल मार्च में जेल से छूटकर गुमला आया था। इसके बाद से मिथिलेश लोहरदगा रोड स्थित अपनी चाची के घर पर रहा करता था। 


पिछले 4 दिनों से मिथिलेश कुमार साहू अपने ऑफिस में रह रहा था। यहां बाल मजदूर मुक्ति संस्थान की एक सदस्य पूजा देवी अपने 6 साल के बच्चे के साथ रह रही थी। पूजा के अनुसार, सुबह मिथिलेश अपने ऑफिस में बैठा हुआ था और उसे दो लोगों से बात करते सुना। इसी बीच पूजा ने गोली चलने की आवाज सुन भाग कर मिथिलेश की ओर गई। तभी चार बदमाशों ने पूजा को भी पकड़ने का प्रयास किया। पर पूजा ने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर मिथिलेश के छोटे भाई को घटना की सूचना दी।

मिथिलेश के भाई ने पुलिस को जानकारी दी और जब लोग ऑफिस के पास पहुंचे तो देखा मिथिलेश की हत्या हो चुकी है। उसे गोली मारने के साथ ही गला भी रेता गया है। मौके पर पहुंचे एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल ने बताया कि मृतक का आपराधिक इतिहास रहा है। वो अपने भाई के ससुर की हत्या और गणेश साहू मर्डर मामले में जेल जा चुका है। पुलिस इसकी जांच कर रही है कि यह बदले की भावना से हत्या की गई है या कुछ और ही मामला है।

Share this story