×

Bhagalpur  में अंतिम विदाई पर दिग्गज मंत्रियों-विधायकों समेत हजारों लोगों की भीड़ उमड़ी

Bhagalpur  में अंतिम विदाई पर दिग्गज मंत्रियों-विधायकों समेत हजारों लोगों की भीड़ उमड़ी

बिहार न्यूज़ डेस्क!!!खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि,लोकप्रिय नेता के अंतिम दर्शन के लिए कहलगांव आए कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विरेंद्र राठौर, बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सह भागलपुर विधायक अजीत शर्मा, केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अश्वनी कुमार चौबे, जदयू विधायक नीरज कुमार उर्फ गोपाल मंडल, भाजपा के पवन मिश्रा, दिलीप मिश्रा, कृष्ण कुमार साह, पूर्व राजद विधायक रामविलास पासवान, कहलगांव राजद प्रखंड अध्यक्ष बासुकी नाथ यादव, कांग्रेस नेता प्रवीण कुशवाहा, कांग्रेस के जिला अध्यक्ष प्रवेश जमाल, कार्यकारी जिलाध्यक्ष बिपिन बिहारी यादव, गोराडीह प्रखंड अध्यक्ष अशोक कुमार सिन्हा, कहलगांव प्रखंड अध्यक्ष शाहबाज आलम मुन्ना, पूर्व विधायक प्रतिनिधि प्रवीण कुमार राणा, संतोष कुमार गुप्ता सहित अन्य नेता मौजूद थे

मीडिया रिपेार्ट के अनुसार कांग्रेस के जाने-माने नेता, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष, कई बार मंत्री रहे और 9 बार जीते हुए पूर्व विधायक सदानंद सिंह का आज गुरुवार को कहलगांव की उत्तरवाहिनी गंगा किनारे हिंदू रीति-रिवाज से अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया गया। इस अवसर पर  बंदूक की सलामी भी दी गई। मौके पर भागलपुर डीएम, एसएसपी सहित कहलगांव के तमाम पुलिस पदाधिकारी भी मौजूद थे।सदानंद सिंह लोगों के बीच लोकप्रिय नेता के साथ साथ सभी के अभिभावक के रूप में भी थे। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,स्वर्गीय सिंह के शव को उनके घर से पुरानी बाजार होते हुए कहलगांव की उत्तरवाहिनी गंगा ले जाया गया। उनके अंतिम विदाई में दिग्गज नेताओं और कार्यकर्ताओं समेत कहलगांव की जनता अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़ी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि,मुखाग्नि उनके पुत्र शुभानंद मुकेश ने दिया। अंतिम क्षण में शुभानंद काफी भावुक हो गए।इस गमगीन मौके पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने उन्हें ढाढस बंधाया। इस अवसर पर उनके चाचा अरविंद सिंह, मंटू सिंह, जयप्रकाश सिंह सहित परिवार के सभी लोग मौजूद थे। बताया जा रहा है कि, भागलपुर के जिला पदाधिकारी सुव्रत सेन और एसएसपी नताशा गुड़िया भी वहां पहुंचे और उन्हें श्रधान्जली अर्पित किए।

Share this story