×

Gopalganj बसंतपुर सरेया पुल के पास सड़क पर हुए गड्‌ढे से राहगीरों को हो रही दिक्कत !

टना में महिला मॉडल को गोली मारने के मामले में पुलिस अब तक खाली हाथ हैं। वारदात के दूसरे दिन भी पुलिस किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। इसका एक बड़ा कारण यह है कि अनिता देवी उर्फ मोना राय नाम की जिस मॉडल पर जानलेवा हमला हुआ, उसने पूरी तरह से अपना मुंह बंद कर रखा है। वारदात के पीछे की असलियत बताने से वह बच रही है। पुलिस के अधिकारियों का दावा है कि महिला को पता है कि वारदात के पीछे कौन है? इसकी वजह क्या है? यह सब भी पता है, फिर भी उसने अपने मुंह पर चुप्पी साध रखी है।      मिसेज बिहार की प्रतिभागी रह चुकी महिला पर फायरिंग; 12 साल की बेटी के सामने बाइक सवार दो बदमाशों ने मारी गोली, लव अफेयर में वारदात की आशंका  दूसरी तरफ पुलिस की पड़ताल अपने स्तर से जारी है। शुरुआती जांच में पुलिस को एक बिल्डर के साथ दोस्ती का पता चला था। पुलिस की जांच इस एंगल पर ही आगे बढ़ रही है। पटना पुलिस के सीनियर अधिकारी के अनुसार, महिला की उस व्यक्ति से तकरीबन 10 साल की दोस्ती है। राजीव नगर थाना के तहत रामनगरी के बसंत कॉलोनी में अनिता देवी उर्फ मोना राय अपने परिवार के साथ किराए के मकान में रह रही है। पुलिस को इस बात के सबूत मिले हैं कि इस दोस्ती के दरम्यान जमीन का एक प्लॉट अनिता देवी को गिफ्ट किया गया था। इस बारे में दोस्त की वाइफ को भी पता चल चुका था। आशंका है कि महिला मॉडल पर जानेलवा हमले की वजह यही हो, क्योंकि दोस्त की वाइफ इससे नाराज बताई जा रही है। अब इसी एंगल पर पुलिस अपनी जांच आगे बढ़ा रही है।  दो लोगों से हो चुकी है पूछताछ  पुलिस के शक की सुई बिल्डर दोस्त के साले पर घूम रही है। पुलिस अब तक महिला के दोस्त समेत दो लोगों से पूछताछ कर चुकी है। अनिता के पति सुमन कुमार के बयान पर अज्ञात अपराधियों के खिलाफ FIR की गई है। मंगलवार की रात अनिता को गोली उस वक्त मारी गई थी, जब वो अपनी बेटी को लेकर मंदिर से वापस घर लौटी थी। ब्लैक कलर की बाइक से आए दो अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया था।
बिहार न्यूज़ डेस्क !!! करही खुर्द व भगवानपुर प्रखंड के सरेया गांव के बोर्डर पर स्थित धमई नदी पुल के उत्तरी तथा दक्षिणी छोर पर सड़क में काफी सारे गडढे बन हुए हैं जिसके कारण राहगिरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और ये सभी दुर्घटना को दावत दे रहे हैं । आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, यह सड़क बसंतपुर से महाराजगंज अनुमंडल को जोड़ने वाली मुख्य सड़क है । सड़क में राहगीरों को गिरने से बचाने के लिए स्थानीय लोगों ने उस गडढों में डंडे में लाल कपड़ा लगाया हुआ हैं ।

गोपालगंज न्यूज़ डेस्क !!!

बताया जा रहा है कि, ललन राय, भोला राय, उपेन्द्र यादव, महेश राय, राजकुमार पासवान, रंजीत पासवान, चन्दन सोनी अमन सोनी आदि ने इसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस सड़क से अनुमंडल के सभी अधिकारी भगवानपुर प्रखंड मुख्यालय आते जाते है । मगर किसी का भी ध्यान  सड़क के गडढों पर नहीं जा रहा है और सभी मूक बधिर बनकर तमाशा देखते हैं । इसके आगे ग्रामीणों ने कहा कि, यदि समय रहते ध्वस्त सड़क के निर्माण नहीं कराया जा रहा है तो अनुमंडल से दर्जनों गांव का संपर्क टूट जाएगा तथा प्रखंड मुख्यालय से दो दर्जन से अधिक गांव का सम्पर्क टूट जाएगा । जिसके कारण ग्रामीणों और दूसरे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

गोपालगंज न्यूज़ डेस्क !!!

Share this story