×

Rohtas  सागर नाका पर तैनात सैप जवान की अचानक बिगड़ी तबीयत, अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में ही गई जान

सासाराम में बुधवार की सुबह एक सैप जवान की हार्ट अटैक से मौत हो गई। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम सदर अस्पताल भेज दिया गया। सैप जवान सासाराम नगर थाना अंतर्गत सागर नाका पर तैनात थे। इस घटना की सूचना के बाद ​​​​​​जवान के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।  इलाज के लिए ले जाने के दौरान रास्ते में ही गई जान सैप जवान के सहकर्मियों ने बताया कि सागर नाका पोस्ट पर तैनात रघन यादव की बुधवार की सुबह अचानक तबीयत बिगड़ गई। जिसके बाद उन्हें निजी क्लीनिक में इलाज के लिये ले गए। जहां से डॉक्टरों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिये नारायण मेडिकल एवं अस्पताल, जमुहार रेफर कर दिया। सैप जवानों ने उन्हें एंबुलेंस से नारायण मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में ले जाने लगे लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम के सदर अस्पताल लाया गया है।  परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल मृतक सैप जवान रघन यादव औरंगाबाद जिला के हसपुरा थाना के मठिया गांव के निवासी थे। तथा सासाराम के नगर थाना क्षेत्र के सागर इलाके में स्थित नाका पोस्ट पर तैनात थे। उनके मौत की सूचना स्थानीय पुलिस ने मृतक के परिजनों को इसकी सूचना दी। सूचना के बाद रघन यादव के परिजन

बिहार न्यूज़ डेस्क !!!  बुधवार सुबह सासाराम में एक सैप जवान की हार्ट अटैक से मौत हो गई। जिसके  बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम सदर अस्पताल भेज दिया गया। सैप जवान सासाराम नगर थाना अंतर्गत सागर नाका पर तैनात थे। घटना की सूचना के बाद ​​​​​​जवान के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।


बुधवार सुबह जवान के सहकर्मियों ने बताया कि सागर नाका पोस्ट पर तैनात रघन यादव की अचानक तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद उन्हें निजी क्लीनिक में इलाज के लिये ले गए। जहां से डॉक्टरों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिये नारायण मेडिकल एवं अस्पताल, जमुहार रेफर कर दिया। सैप जवानों ने उन्हें एंबुलेंस से नारायण मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में ले जाने लगे लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। जवान रघन यादव औरंगाबाद जिला के हसपुरा थाना के मठिया गांव के निवासी थे। तथा सासाराम के नगर थाना क्षेत्र के सागर इलाके में स्थित नाका पोस्ट पर तैनात थे। उनके मौत की सूचना स्थानीय पुलिस ने मृतक के परिजनों को इसकी सूचना दी।

रोहतास न्यूज़ डेस्क !!!

Share this story