×

GAYA हावड़ा एक्सप्रेस में ID दिखाने को लेकर ट्रेन ड्राइवर और टिकट निरीक्षक में विवाद

GAYA हावड़ा एक्सप्रेस में ID दिखाने को लेकर ट्रेन ड्राइवर और टिकट निरीक्षक में विवाद
बिहार न्यूज़ डेस्क !!!मामला रेलवे स्टाफ के बीच होने की वजह से पुलिस ने विवाद को सुलटाने की घंटों कोशिश की, फिर भी TTE नहीं माने। पीड़ित के आवेदन पर पुलिस को ट्रेन ड्राइवर के विरुद्ध केस दर्ज करना पड़ गया और फिर उसे गिरफ्तार कर लिया और शनिवार दोपहर जेल भेज दिया गया। GRP इंस्पेक्टर सन्तोष कुमार ने बताया- "केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले को नवादा GRP को हस्तांतरित कर दिया गया है, घटना वहीं घटित हुई थी।गया-हावड़ा एक्सप्रेस गया आ रही थी। ऑन ड्यूटी आरके गुप्ता ट्रेन में चेकिंग करते हुए रेलवे के ड्राइवर राजेश कुमार के पास पहुंचे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, टिकट दिखाने की मांग कर दी। TTE की यह बात राजेश कुमार को नागवार गुजरी। राजेश ने टीटीई से आईकार्ड दिखाने की बात कही तो TTE को बुरा लग गया। दोनों इस बात को बहस करने लगे। TTE यूनिफार्म में नहीं थे। हावड़ा एक्सप्रेस में शुक्रवार को अजीबोगरीब घटना हुई। ID दिखाने को लेकर ट्रेन ड्राइवर और ऑन ड्यूटी TTE बुरी तरह से भिड़ गए। ड्राइवर ने उसे फर्जी बताया।पैसेंजर्स ने भी TTE की जमकर धुनाई कर दी। उसका चेहरा बुरी तरह से जख्मी हो गया है। इसकी सूचना TTE ने गया स्टेशन पर कार्यरत अपने साथियों को सूचना दी।खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि,अन्य TTE भड़क गए और सब कुछ छोड़ कर गया स्टेशन पर एकजुट हो गए। बात इतनी बढ़ गई कि मौके पर GRP व RPF पहुंच गई।बहस के दौरान ही ट्रेन ड्राइवर उसे फर्जी कहने लगा और ट्रेन में सफर कर रहे लोगों को भड़का कर पिटाई कराने लगा।' सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,TTE ने खुद के ऑरिजनल TTE होने की दुहाई दी, फिर भी भीड़ नहीं मानी।बताया जा रहा है कि,आरके गुप्ता का कहना है- "ट्रेन ड्राइवर के साथ उसे पीटने वाले वे रेल यात्री भी थे, जिनका मैंने चालान काटा था। 7 लोगों का चालान काटा गया था। वे सभी ट्रेन ड्राइवर के साथ मुझे पीट रहे थे। इस बीच ट्रेन गया पहुंच गई। गया पहुंचते ही अपने साथियों को घटना सूचना दी।'

Share this story