×

ALWAR अश्लील वीडियो चैट की रिकॉर्डिंग कर मांगी रकम, 5 आरोपी गिरफ्तार

Angry cow attacked firefighter, see what happened next in the video

राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! ठगी की रकम 58 हजार रुपये, 07 एन्ड्रॉयड मोबाईल फोन, 9 एटीएम कार्ड एवं एक बाईक व एक हुण्डई आई-20 कार बरामद की गई है। खबरों से प्राप्त जानकर के अनुसार बताया जा रहा है कि,अलवर एसपी तेजस्वनी गौतम ने बताया कि पकड़े गये बदमाशो ने नेपाल में भी साईबर ठगी करना बताया है। गिरफ्तार अजरुद्दीन उर्फ अजरु पुत्र छुट्टन खां  आबिद खां पुत्र फजरुद्दीन  व जफरुद्दीन उर्फ जफरु पुत्र नूरदीन खां गांव कोट थाना मण्डावर जिला दौसा, गजेन्द्र सिंह पुत्र महेन्द्र सिंह  गांव झांपडा वास थाना सिकन्दरा जिला दौसा व वसीम खान पुत्र तैय्यब खां  गांव चैरोटी पहाड थाना एमआईए जिला अलवर के निवासी है। इनमे अजरूद्दीन मेव, आबिद मेव व जफरुद्दीन मेव के विरुद्ध पूर्व में भी आपराधिक मामले दर्ज हुए है। एसपी गौतम ने बताया कि एक कांस्टेबल ने 3 सितम्बर को राजगढ़ थानाधिकारी विनोद सामरिया को बताया की उसकी फेसबुक आईडी पर रितिका रॉय नाम की लड़की ने फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। रिक्वेस्ट एसेप्ट करने पर व्हाट्सएप्प नम्बर जान अश्लील वीडियो कॉल कर उसका वीडियो बना वायरल करने की धमकी देकर 5000 रुपयो की मांग की जा रही है।

मामले की गम्भीरता को देख एएसपी श्रीमन लाल मीना व सीओ राजगढ़ अंजली अजीत जोरवाल के मार्ग दर्शन एवं थानाधिकारी राजगढ विनोद सामरिया के नेतृत्व में विशेष टीम गठित की गई।  आपकी जानकारी के लिए बता दे की, सोशल मीडिया प्लेटफार्म वाट्सअप व फेसबुक पर लडकी की फर्जी आईडी बना दोस्ती कर अश्लील चैटिंग की रिकॉर्डिंग से ब्लैकमैलिंग कर करोडों रुपये एठने वाले अन्तर्राष्ट्रीय गिरोह का थाना राजगढ़ पुलिस ने साइक्लोन सैल के सहयोग से पर्दाफाश कर अलवर व दौसा जिले के रहने वाले 5 ठगों को गिरफ्तार किया है। गठित विशेष टीम ने सेक्सटॉर्शन कर लोगों को ठगने वाले इस गिरोह के खिलाफ साईक्लोन सैल अलवर से तकनीकी सहायता एवं मुखबीर का सहयोग लेकर मुलजिम अजरुद्दीन उर्फ अजरु, आबिद खां, जफरुद्दीन उर्फ जफरु,गजेन्द्र सिंह व वसीम खान को गिरफ्तार कर 58,050 रुपये, 07 मोबाईल फोन, 09 एटीएम कार्ड एवं कार व मोटरसाईकिल बरामद कर जब्त की। दौसा के थाना मण्डावर क्षेत्र के कोट गांव के कई युवक ऐसे ही मामलों में अलवर पुलिस द्वारा पूर्व में गिरफ्तार किए जा चुके है। ऐसे गिरोह के व्यक्ति सोशल मीडिया पर दोस्ती करने के बाद सैक्स वीडियो चैट कर अश्लील वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी देकर पीड़ित से रुपयो की डिमाण्ड करते हैं। पीड़ित से मिले रुपये प्राप्त करने कमीशन के रूप में अन्य व्यक्तियों के एटीएम कार्डों को काम में लेते हैं।

Share this story