Samachar Nama
×

Nasa के वैज्ञानिकों की सांसें अटकी! 47 मिनट के लिए अंतरिक्ष में ‘गायब’ हुआ ओरियन स्‍पेसक्राफ्ट, जानें पूरा मामला

,

विज्ञान न्यूज डेस्क - अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का आर्टेमिस 1 मिशन चंद्रमा की जांच कर रहा है। हालांकि, बुधवार को उसके ओरियन अंतरिक्ष यान ने वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी। कहा जाता है कि ओरियन कैप्सूल का नासा से संपर्क टूट गया था। करीब 47 मिनट तक संचार बाधित रहा, जिससे नासा और मिशन से जुड़े वैज्ञानिकों की टेंशन बढ़ गई। ऐसा किस वजह से हुआ, यह अभी पता नहीं चल पाया है। वैज्ञानिक इस मामले की जांच कर रहे हैं। 16 नवंबर को लॉन्च किया गया आर्टेमिस 1 मिशन सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है। इसका मकसद यह स्थापित करना है कि भविष्य में इंसानों को फिर से चांद पर कैसे भेजा जाए। अपने लक्ष्य के रास्ते में ओरियन अंतरिक्ष यान बुधवार को एक चुनौती लेकर आया। नासा के मिशन नियंत्रकों का ओरियन अंतरिक्ष यान से संपर्क टूट गया। नासा की ओर से संक्षिप्त अपडेट में बताया गया है कि पिछले कुछ दिनों में कई बार रीकॉन्फिगरेशन किया गया है। ओरियन से संपर्क टूटने के कारणों की जांच की जा रही है।

नासा ने कहा कि समस्या को ठीक कर लिया गया है। क्या हुआ यह पता लगाने के लिए नासा के इंजीनियर ओरियन अंतरिक्ष यान से आने वाले डेटा की जांच कर रहे हैं। नासा के अधिकारियों का कहना है कि करीब 47 मिनट तक संपर्क बाधित रहा। ओरियन अंतरिक्ष यान ठीक है और उसे कोई नुकसान नहीं हुआ है। इस बीच, ओरियन अंतरिक्ष यान कल एक महत्वपूर्ण मिशन को पूरा करने का प्रयास करेगा। इसके तहत ओरियन कैप्सूल चंद्रमा की कक्षा में जगह बनाएगा। यदि सब कुछ ठीक रहा तो ओरियन अंतरिक्ष यान लगभग एक सप्ताह तक उसी कक्षा में रहेगा और फिर 1 दिसंबर को पृथ्वी पर लौट आएगा।

Share this story