Samachar Nama
×

चंद्रमा से कैसी दिखती है पृथ्‍वी? आप भी देखें

.

विज्ञान न्यूज डेस्क - नासा का आर्टेमिस 1 मिशन सफलता के साथ आगे बढ़ रहा है। 16 नवंबर को लॉन्च हुआ यह मिशन अब अपनी 'शक्ति' दिखाने लगा है। एसएलएस रॉकेट पर सवार होकर चंद्रमा का पता लगाने के लिए निकले ओरियन अंतरिक्ष यान ने एक शानदार वीडियो भेजा है। इस वीडियो में चांद से पृथ्वी का नज़ारा देखा जा सकता है। ओरियन अंतरिक्ष यान ने चंद्रमा के पास उड़ान भरते समय पृथ्वी को अपने हाई रेजोल्यूशन कैमरे में कैद किया। ऐसा नजारा शायद ही कभी देखा होगा, जिसमें चांद से धरती नजर आती हो। रिपोर्ट्स के मुताबिक, 21 नवंबर को यह अंतरिक्ष यान चांद के करीब पहुंचा और अपना इंजन स्टार्ट किया। नासा ने चंद्रमा के पास उड़ने वाले ओरियन अंतरिक्ष यान के इंजन को लाइव और साथ ही लाइवस्ट्रीमेड फुटेज दिखाया। आप पृथ्वी को देख रहे हैं, आप घर को देख रहे हैं, नासा की प्रवक्ता सैंड्रा जोन्स ने चंद्रमा के पास ओरियन अंतरिक्ष यान के फ्लाईबाई के लाइव कवरेज पर कहा। आप उस छवि में खुद को यानी धरती को देख रहे हैं।

ओरियन अंतरिक्ष यान ने जब यह फुटेज भेजा था, तब वह पृथ्वी से 373,000 किलोमीटर दूर था। यह सब अंतरिक्ष यान में लगे हाई रेजोल्यूशन कैमरों की वजह से संभव हुआ। शायद पहली बार चांद से पृथ्वी को इस तरह देखा होगा। कहा जाता है कि ओरियन अंतरिक्ष यान ने चंद्रमा के बहुत करीब से उड़ान भरी थी। इसने चंद्रमा की सतह को 81 मील के दायरे से पार किया। इस अंतरिक्ष यान में कोई अंतरिक्ष यात्री मौजूद नहीं है। नासा ने भी संभावना जताई है कि इस दशक के अंत तक इंसान चांद पर लंबे समय तक रहना शुरू कर देगा। हावर्ड हू ने कहा कि आर्टेमिस मिशन हमें एक स्थायी मंच और परिवहन प्रणाली के लिए सक्षम बनाता है। यह हमें उस गहरे अंतरिक्ष वातावरण में काम करने का तरीका सीखने की अनुमति देता है। हावर्ड हू ने कहा कि हम चंद्रमा पर स्थायी कार्यक्रम की दिशा में काम कर रहे हैं। ओरियन अंतरिक्ष यान की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि यह वह यान होगा जो मनुष्य को फिर से चंद्रमा पर ले जाएगा।

Share this story