Samachar Nama
×

पृथ्‍वी को ‘छू कर’ निकल गए विनाशकारी एस्‍टरॉयड, एक दिन में 5 चट्टानी आफतें आईं करीब

;

विज्ञान न्यूज़ डेस्क- क्षुद्रग्रह, जिन्हें क्षुद्रग्रह भी कहा जाता है, समय-समय पर हमारी पृथ्वी के करीब आते हैं। हालांकि, यह साल थोड़ा अलग है। इस साल पृथ्वी के करीब आने वाले क्षुद्रग्रहों की संख्या में इजाफा हुआ है। कई दिनों से दो-तीन एस्टेरॉयड हमारी धरती के करीब से गुजर रहे हैं और गुरुवार-शुक्रवार को करीब 5 एस्टरॉयड की हमारे ग्रह से नजदीकी टक्कर हुई। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के मुताबिक पिछले 24 घंटों में हमारे ग्रह के करीब आने वाला 'क्षुद्रग्रह 2022 QH8' सबसे बड़ा चट्टानी हादसा था। 160 फुट चौड़े इस क्षुद्रग्रह का आकार एक व्यावसायिक विमान के आकार का था। उन्होंने लगभग 55 हजार किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा की। जब यह पृथ्वी के सबसे करीब आया तो दोनों के बीच की दूरी महज 25 लाख किलोमीटर थी।

Asteroid Alert: Asteroid 3 times the size of Taj Mahal to zoom past Earth  on July 24 | Science

जानकारी के मुताबिक, 140 फीट आकार का 'क्षुद्रग्रह 2022 SG' गुरुवार को 17 लाख किलोमीटर की दूरी से पृथ्वी के करीब से गुजरा। तीन अन्य क्षुद्रग्रह - 2022 SG3, 2022 ST1 और 2022 SK1 भी हमारे ग्रह के करीब आए। इन सभी की घोषणा इसी साल की गई थी। जानकारों के मुताबिक इन सभी क्षुद्रग्रहों में सबसे खतरनाक 'क्षुद्रग्रह 2022 QH8' था। अगर यह अपने रास्ते से थोड़ा हटकर पृथ्वी की ओर मुड़ जाए तो यह बहुत बड़ी तबाही मचा सकता है।इसलिए वैज्ञानिक क्षुद्रग्रहों पर तब तक नज़र रखते हैं जब तक वे पृथ्वी के वायुमंडल से बाहर नहीं निकल जाते। क्षुद्रग्रह 2022 QH8 बृहस्पति के पास मुख्य क्षुद्रग्रह बेल्ट में स्थित अपोलो समूह से संबंधित है। इसका आविष्कार 29 अगस्त 2022 को हुआ था। सूर्य के चारों ओर एक चक्कर पूरा करने में लगभग 1395 दिन लगते हैं। सूर्य से इसकी अधिकतम दूरी 613 मिलियन किमी है और निकटतम दृष्टिकोण 118 मिलियन किमी है।

Share this story