×

अगर चाहते है कि ना आये रिश्ते में कोई दरार, तो पार्टनर से I LOVE YOU कहने के कभी ना छोड़ें मौके

अगर चाहते है कि ना आये रिश्ते में कोई दरार, तो पार्टनर से I LOVE YOU कहने के कभी ना छोड़ें मौके

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। प्रेम एक ऐसा मंत्र है जो अंधकार में जाते किसी जीवन को भी रोशनी देदे। लेकिन कई बार अथाह प्रेम के होने के बाद भी रिश्तों में खटास आ जाती है। लड़ाई झगड़े होते हैं। प्रेम ईगो का रूप ले लेता है और हम सामने वाले की सच्चाई अच्छाई नहीं देख पाते। ऐसे में I Love You ये तीन शब्द किसी भी रिश्ते की बिगड़ती डोर को पकड़ने का सबसे अच्छा तरीका है। क्या आपको पता है हमें अपने जीवन साथी से कितनी बार प्यार का इजहार करना चाहिए। आईये जानते हैं पार्टनर से कब कब करें प्रेम का इजहार। 

जब परेशान हो आपका पार्टनर
अगर आपका पार्टनर परेशान है। तब यहां जरूरत होती है आई लव यू बोलने की। पार्टनर को समझाएं हौसला बढ़ाएं और बताएं कि आप हमेशा उनके साथ हैं। अपने पार्टनर के पास बैठें कुछ अच्छा समय बिताएं और बातें करे ताकि आप जब अपने पार्टनर की मन की बात जान लेगें तो दोनों मिलकर कोई अच्छा सोल्यूशन निलाक सकते हैं। 

जब इजाजत नहीं साथ दे पार्टनर 
शादी से पहले लड़के कह तो देते हैं कि शादी के बाद तुम नौकरी कर सकती हो लेकिन जब जिम्मेदारी बढ़ती है तब पत्नी की नौकरी पति को खटकने लगती है या फिर पत्नी को आगे बढ़ता देख पति को अच्छा नहीं लगता। या फिर सास ननद या घर के बाकी लोगों को बहू का नौकरी करना पसंद ना हो। ऐसे में रिश्ते में ददार पड़ना शुरू होती हैं। तुम शादी के बाद नौकरी कर सकती हो... ये कहना तो आसान है लेकिन यहां जरूरत इजाजत की नहीं साथ की है। साथ मिलकर काम करने की है जीवन में आने वाले सारे चैलेंज को पूरा करने की है। ऐसे में जरूरी है कि दोनों पार्टनर साथ बैठकर इस समस्या का समाधान करें।

अगर चाहते है कि ना आये रिश्ते में कोई दरार, तो पार्टनर से I LOVE YOU कहने के कभी ना छोड़ें मौके

गलती के बाद जरूरी है I LOVE YOU की डोज 
जब आपसे कोई गलती हो जाए। तो जरूरत है Sorry के साथ I LOVE YOU की। ये तीन शब्द आपके पार्टनर को फील करवाएंगे कि आपने अपनी गलती मानी है क्यों कि आप उनसे बेहद प्यार करते हैं। ऐसा तो हो नहीं सकता कि आपसे कोई गलती ना हो। कोई कितना भी परफेक्ट हो लेकिन वो परफेक्ट अपनी गलतियों से ही होता है। 

जब बढ़ने लगे बहस 
जब लगे बहस सीरियस हो गई है तो चुप हो जाएं और पार्टनर को बोलने दें। बहस के बीच में जरूरत है I LOVE YOU बोलने की। ताकि आप उन्हें बता सको कि भले की हमारे विचार अलग हों लेकिन वो और आप एक हीं हैं। कई बार जब हम को टॉपिक डिस्कस करते हैं तो सही और गलत के जाल में बुनकर भूल जाते हैं कि किस ओर जा रही है हमारी बहस। ऐसे में खुद को संभाले उत्तेजित ना हों। 

Share this story