Samachar Nama
×

एलोवेरा कौन कौन सी बीमारी में काम आता है? जानें 5 स्थितियां जिनमें इसका सेवन है फायदेमंद

'

हेल्थ न्यूज़ डेस्क, एलोवेरा (Aloe Vera benefits in hindi) एक ऐसी जड़ी-बूटी है जो एक साथ कई बीमारियों में काम आ सकती है। इसका एक कारण यह भी है कि यह एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और कूलिंग गुणों से भरपूर होता है। इसके अलावा इसके एंटीऑक्सीडेंट शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचाते हैं और डायबिटीज जैसी बीमारी में काम करते हैं।

1. एक्जीमा में एलोवेरा लगाने के फायदे
एक्जिमा में एलोवेरा बहुत प्रभावी रूप से काम कर सकता है। दरअसल, इसकी खास बात यह है कि यह हीलर और कूलिंग गुणों से भरपूर है। एक्जिमा, जो एक त्वचा रोग है, खुजली और जलन को कम करने में मदद करता है। साथ ही इसके एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण भी इसे रोकने में मदद करते हैं।

2. मधुमेह में एलोवेरा
एलोवेरा डायबिटीज में दो तरह से काम करता है। सबसे पहले, यह चीनी चयापचय को तेज करता है। दूसरा, यह इंसुलिन के उत्पादन को तेज करता है। इससे शुगर स्पाइक नहीं बढ़ता और डायबिटीज कंट्रोल में रहता है। इसलिए मधुमेह के रोगियों को रोजाना एलोवेरा का जूस पीना चाहिए।

3. कब्ज में एलोवेरा
एलोवेरा का जूस पीने से कब्ज में फायदा हो सकता है। यह रेचक गुणों से भरपूर होता है जो पेट को साफ करने और मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा एलोवेरा मल त्याग और मल की गति को तेज करता है और कब्ज से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

4. मुंह में छाले होने पर
मुंह में छाले होने पर एलोवेरा बहुत प्रभावी ढंग से काम कर सकता है। सबसे पहले यह एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल है जो संक्रमण को कम कर सकता है। दूसरा, यह पेट की गर्मी और जीभ की जलन को कम कर सकता है, जिससे मुंह के छाले कम हो सकते हैं।

5. अगर दांतों में कैविटी है
दांतों में कैविटी होने पर अक्सर लोग काफी परेशान रहते हैं। ऐसे में एलोवेरा का सेवन या इसे दांतों में लगाने से यह समस्या कम हो सकती है। तो इन सभी समस्याओं में आप एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Share this story