Samachar Nama
×

बवासीर में अजवाइन के फायदे हैं अनेक, रोजाना इन 3 तरीकों से करें इसका सेवन

;

हेल्थ न्यूज़ डेस्क, बवासीर एक गंभीर बीमारी है जिसमें गुदा के अंदर या बाहर ऊतकों के जमा होने से मल मार्ग में सूजन आ जाती है। इसमें मल त्याग के प्रभाव से मल त्याग करने में कठिनाई होती है और आपको कब्ज की समस्या होने लगती है। इसके अलावा कई बार लोगों को इसमें तेज दर्द और सूजन भी महसूस होती है। खराब जीवनशैली, बार-बार कब्ज और लंबे समय तक बैठे रहने से पाइल्स होता है। ऐसे में अगर आप जीवनशैली में बदलाव के साथ-साथ कुछ घरेलू नुस्खों का भी इस्तेमाल करें तो आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं। ऐसा ही एक कारगर घरेलू उपाय है बवासीर में अजवाइन का इस्तेमाल। साथ ही बवासीर में अजवाइन के फायदे भी जानेंगे (Ajwain for Piles uses Benefits in hindi)।

बवासीर में अजवाईन के उपयोग और फायदे - बवासीर में अजवायन का प्रयोग कैसे करें
1. सुबह खाली पेट अजवाइन के पानी का सेवन करें।
बवासीर में बवासीर के लिए आप अजवाइन का पानी ले सकते हैं। अजवाइन का यह पानी शरीर को डिटॉक्स करने का काम करता है। लेकिन, बवासीर के मरीजों के लिए यह खास है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह पहले मल को नरम करेगा। दूसरा, इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण आंतों के मार्ग की सूजन को कम करते हैं और मल त्याग में सुधार करते हैं। इससे बवासीर में कब्ज की समस्या से कुछ हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।

2. अजवाइन और हींग को भूनकर खाएं
बवासीर की समस्या में भुनी हुई अजवाइन और हींग का सेवन काफी कारगर साबित हो सकता है। दरअसल, अजवाइन में फाइबर होता है और हींग डाइजेस्टिव एंजाइम को बढ़ावा देती है। साथ में, दोनों पाचन को गति देते हैं और मल त्याग को आसान बनाते हैं। इस प्रकार इन दोनों के नियमित सेवन से बवासीर के लक्षणों से छुटकारा मिलता है।

3. अजवाइन को भिगोकर खाएं
अगर आपको बवासीर की समस्या है तो आप अजवाइन को भिगोकर खाएं। इसके लिए आपको रोज रात को सोने से पहले अजवाइन को पानी में भिगो कर रखना है। फिर इसका सेवन सुबह खाली पेट करना है। इस तरह सुबह से ही यह आपके मेटाबॉलिज्म और मल त्याग को तेज कर देगा। इससे आपको बवासीर के लक्षणों से छुटकारा पाने में मदद मिलेगी। तो अगर आप बवासीर की समस्या से परेशान हैं तो अपना लाइफस्टाइल सही करने के साथ-साथ इस नुस्खे को अपनाएं और इस समस्या से निजात पाएं।

Share this story