Samachar Nama
×

शादी से पहले कुंडली नहीं बल्कि पार्टनर का करवाएं ये Tests, नहीं तो बर्बाद हो सकती हैं दोनों की जिंदगी

;

हेल्थ न्यूज़ डेस्क,भारतीय समाज में लव मैरिज हो या अरेंज मैरिज, दो लोगों के बीच एक अटूट रिश्ता होता है। जैसा कि सभी जानते हैं कि भारत में एक-दूसरे की जेनेटिक बीमारियों का पता लगाने के लिए मेडिकल टेस्ट से ज्यादा लोग यहां कुंडली मिलान करना पसंद करते हैं। इस लेख के माध्यम से हम आपको यह बताने की कोशिश करेंगे कि शादी में कुंडली से ज्यादा मेडिकल टेस्ट करवाना क्यों जरूरी है। ताकि आप भविष्य में आने वाली परेशानियों से आसानी से लड़ सकें। कई बार ऐसा होता है कि शादी से पहले सब कुछ ठीक था, फिर अचानक शादी के लड़के या लड़की को बुरा लगने लगा। ऐसे में जरूरी है कि आप शादी से पहले कुछ जरूरी टेस्ट करवा लें।

रक्त परीक्षण
शादी से पहले पार्टनर को एक-दूसरे का ब्लड ग्रुप पता होना चाहिए या साथ में जाकर ब्लड टेस्ट कराना चाहिए। पार्टनर का ब्लड ग्रुप भी पता होना चाहिए ताकि भविष्य में कोई परेशानी न हो। क्योंकि हर व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को रक्तदान नहीं कर सकता इसलिए यह जानना जरूरी है कि आपका साथी या आप खुद एक दूसरे को रक्तदान कर सकते हैं या नहीं।

कई कपल्स का शादी के बाद माता-पिता बनने का सपना पूरा नहीं हो पाता है। इसलिए शादी से पहले एक दूसरे के इनफर्टिलिटी रेट की जांच करा लें। इससे आने वाले समय में आपके लिए कोई परेशानी नहीं होगी। शादी से पहले यह टेस्ट करवाना बेहद जरूरी है। इससे पता चलता है कि आप प्रजनन के लिए फिट हैं या नहीं।

आनुवंशिक चिकित्सा इतिहास

हृदय रोग या मधुमेह के लिए यह जांच करवाना बहुत जरूरी है। इससे आपको पता चलेगा कि पार्टनर के परिवार में कोई पुराना रोग तो नहीं है। अगर ऐसा है तो आप समय रहते इसका इलाज करा सकते हैं।

एचआईवी या यौन संचारित रोग

अगर आपके पार्टनर के अंदर कोई यौन रोग है तो इसका पता एचआईवी टेस्ट से चलेगा। इसलिए शादी से पहले इस बीमारी की जांच करवाना बेहद जरूरी है।

Share this story