Samachar Nama
×

खाने में नमक का ज़्यादा इस्तेमाल करने से हो सकते हैं पथरी का शिकार, भूलकर भी इस बीमारी में इन चीज़ों को न खाएं

'

हेल्थ न्यूज़ डेस्क, कब और कौन सी बीमारी इंसान को जकड़ ले, कहा नहीं जा सकता। हमारी अस्वास्थ्यकर जीवनशैली और खान-पान की गलत आदतें हमारे शरीर को प्रभावित करती हैं। जिससे हम लाइफस्टाइल से जुड़ी कई बीमारियों से जूझते हैं। इन्हीं बीमारियों में से एक है किडनी स्टोन। आयुर्वेद में गाउट को वातरक्त के नाम से जाना जाता है। आजकल लोगों में पथरी की समस्या काफी बढ़ गई है। इस रोग में शरीर के छोटे-छोटे जोड़ों में दर्द व सूजन हो जाती है। इसके रोगी यदि लापरवाही करें तो आगे चलकर जोड़ों में सूजन और लाल रंग के घाव हो जाते हैं। इसलिए जिन लोगों को पथरी की शिकायत है, उन्हें अपने खान-पान में सावधानी बरतनी चाहिए। इसके अलावा, इनमें से कुछ खाद्य पदार्थों को अपने आहार से बाहर कर दें। क्‍योंकि ये फूड्स गठिया को बढ़ाते हैं।

ये हैं किडनी स्टोन के लक्षण
पेशाब करते समय दर्द होना
बार-बार शौचालय जाना
पेट में तेज दर्द
भूख में कमी
वमनजनक
बुखार आना
इन चीजों का सेवन न करें
नमक का अत्यधिक उपयोग
खाने में ज्यादा नमक का इस्तेमाल न करें। ज्यादा नमक खाने से किडनी स्टोन की समस्या बढ़ जाती है। दरअसल, अधिक नमक खाने से पेशाब में कैल्शियम की मात्रा बढ़ जाती है, जिससे पथरी बनने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है।

कोल्ड ड्रिंक का सेवन
पथरी के ज्यादातर मरीज डिहाइड्रेशन की समस्या से परेशान रहते हैं। ऐसे में इनके मरीजों को कोल्ड ड्रिंक और कैफीन जैसी चीजों से दूर रहना चाहिए। कोल्ड ड्रिंक में मौजूद एसिड से पथरी बनने का खतरा बढ़ जाता है, वहीं कैफीन शरीर के लिए हानिकारक होता है।

नॉनवेज से परहेज करें
मांस, मछली और अंडे जैसे मांसाहारी खाद्य पदार्थों में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। जो किडनी स्टोन के मरीजों के लिए बिल्कुल भी फायदेमंद नहीं है। अगर किडनी में स्टोन की समस्या है तो अपने खाने में प्रोटीन की मात्रा हमेशा कम ही रखनी चाहिए।

टमाटर
टमाटर का इस्तेमाल किचन में ज्यादातर चीजों में किया जाता है। इसमें ऑक्सालेट की मात्रा अधिक होती है। ऐसे में पथरी के मरीजों को टमाटर का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर फिर भी आपका इसे खाने का मन करे तो इसे इस्तेमाल करते समय इसके बीज निकाल दें।

Share this story