Samachar Nama
×

दांतों की सड़न सहित कब्ज की समस्या को दूर करने में बथुआ है असरदार, इसके फायदे जान चौंक जाएंगे आप

'

हेल्थ न्यूज़ डेस्क, सर्दी के मौसम में बथुआ का रायता, सब्जी और पराठा बनाकर बड़े चाव से खाया जाता है. स्वाद से भरपूर बथुआ न सिर्फ आपके स्वाद का टेस्ट बढ़ाता है बल्कि इसके पत्ते कई बीमारियों को दूर करने में भी बेहद कारगर होते हैं. हालांकि बथुआ एक लिमिट में ही खाना चाहिए। क्‍योंकि इसमें ऑक्जेलिक एसिड अधिक मात्रा में पाया जाता है। जिसकी वजह से आपको दस्त हो सकते हैं। आइए आपको बताते हैं कि इसे खाने से आपको कितने स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं।

बथुआ विटामिन से भरपूर होता है
बथुआ में विटामिन की मात्रा आंवले से अधिक होती है. दरअसल इसमें कई तरह के विटामिन पाए जाते हैं. जो आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम और जिंक जैसे शक्तिशाली विटामिन पाए जाते हैं। साथ ही इसमें मिनरल्स भी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं।

दाँत क्षय को रोकें
बथुआ दांतों से जुड़ी सभी समस्याओं को नियंत्रित करता है। अगर आपके दांतों में सड़न हो गई है या आपको पायरिया हो गया है, जिसके कारण आपके दांतों में हमेशा दर्द बना रहता है तो आप इसकी चार से पांच पत्तियों को कच्चा चबा लें। ऐसा करने से आपको दांतों की सभी समस्याओं से निजात मिल जाएगी। साथ ही यह मुंह से आने वाली दुर्गंध को दूर करने में भी बहुत कारगर है।

कब्ज से राहत
अगर आपका खाना नहीं पचता है या आपको गैस की बहुत समस्या है तो इसे कंट्रोल करने के लिए आप बथुआ का इस्तेमाल कर सकते हैं. कब्ज, भूख न लगना, भोजन के देर से पचने या खट्टी डकारें आने से राहत पाने के लिए बथुआ के पत्तों को उबालकर उसका पानी पिएं।

इम्यून सिस्टम को बनाएं मजबूत
ज्यादातर लोगों का इम्यून सिस्टम सर्दियों में अक्सर कमजोर हो जाता है। ऐसे में लोग अक्सर सर्दी-खांसी जैसी बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। ठंड का असर आप पर ज्यादा न पड़े इसलिए बथुआ का इस्तेमाल करें। यह आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में बहुत कारगर है। बथुआ के साग में सेंधा नमक मिलाकर छाछ के साथ सेवन किया जाए तो यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करेगा।

त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर करता है
बथुआ को उबालकर उसका रस पीने और सब्जी के रूप में खाने से चर्म रोग, फोड़े-फुंसियों में आराम मिलता है। त्वचा संबंधी रोगों से छुटकारा पाने के लिए बथुआ के पत्तों को पीसकर उसका रस निकाल लें। अब 2 कप रस में आधा कप तिल का तेल मिलाकर धीमी आंच पर पकाएं और फिर इस पानी को पी लें। इससे त्वचा संबंधी सभी रोग दूर हो जाते हैं।

Share this story