Samachar Nama
×

कजरी तीज की पूजा में इन चीजों को जरूर करें शामिल तभी पूरी होगी पूजा, जानिए मुहूर्त और विधि

kajari teej vrat 2022 shubh muhurat vidhi  and pujan samagri list 

ज्योतिष न्यूज़ डेस्कः हिंदू धर्म में व्रत त्योहारों को बेहद ही खास माना जाता है वही कजरी तीज का त्योहार महिलाएं के लिए महत्वपूर्ण होता है पंचांग के अनुसार भाद्रपद मास का आरंभ कल यानी 12 अगस्त से हो चुका है भाद्रपद मास हिंदू धर्म का छठा महीना होता है इसी पवित्र महीने में महिलाओं द्रवारा रखा जाने वाला पवित्र व्रत कजरी तीज भी मनाया जाएगा।

kajari teej vrat 2022 shubh muhurat vidhi  and pujan samagri list 

इस दिन महिलाएं भगवान शिव और पार्वती की विधिवत पूजा अर्चना करती है और उपवास भी रखती है ऐसा कहा जाता है कि कजरी तीज व्रत करने से महिलाओं को अखंण्ड सौभाग्य की प्राप्ति होती है और खुशहाल जीवन का आशीर्वाद प्राप्त हो, तो आज हम आपको अपने इस लेख दवारा कजरी तीज व्रत से जुड़ी कुछ जरूरी बातें बता रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

kajari teej vrat 2022 shubh muhurat vidhi  and pujan samagri list 

जानिए कजरी तीज की तिथि-
धर्म पंचांग के अनुसार कजरी तीज का व्रत हर साल भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है इस बार कजरी तीज का व्रत 14 अगस्त दिन रविवार यानी की कल रखा जाएगा। इस दिन शादीशुदा महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र और खुशहाल वैवाहिक जीवन के लिए व्रत पूजन करती है इस दिन कुंवारी कन्याएं मनचाहे वर की प्राप्ति के लिए व्रत पूजन करती है ऐसा कहा जाता है कि आज के दिन अगर पूरी निष्ठा और विश्वास के साथ शिव पार्वती का पूजन किया जाए तो भगवान अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। 

kajari teej vrat 2022 shubh muhurat vidhi  and pujan samagri list 

कजरी तीज का मुहूर्त-
धार्मिक पंचांग के अनुसार भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि 13 अगस्त दिन शनिवार की देर रात 12 बजकर 53 मिनट, 14 अगस्त 12ः53 से शुरू हो रहा है यह तृतीया तिथि 14 अगस्त दिन रविवार को रात 10 बजकर 35 मिनट पर समाप्त हो जाएगा। व्रत में उदयातिथि के अनुसार कजरी तीज व्रत 14 अगस्त दिन रविवार को ही रखा जाएगा। 

जानिए पूजन सामग्री लिस्ट-
आपको बता दें कि कजरी तीज की पूजा में पीला वस्त्र, कच्चा सूत, नए वस्त्र, केले का पत्ता, कलश, अक्षत, गाय का दूध, गंगाजल, पंचामृत, दही, मिश्री, शहद, जनेउ, जटा नारियल, सुपारी, दूर्वा, घी, कपूर, बेलपत्र, भांग, धतूरा, शमी के पत्ते, अबीर गुलाल, श्रीफल, चंदन आदि पूजन सामग्री को शामिल करना बेहद जरूरी माना जाता है वरना इनके बिना व्रत पूजा पूर्ण नहीं होती है। 

kajari teej vrat 2022 shubh muhurat vidhi  and pujan samagri list 

Share this story