Samachar Nama
×

Varanasi  दोहरे वेतन को बनाई तीन डुप्लीकेट आईडी, डुप्लीकेट आईडी की शुरुआत 2016 में हुई
 

Varanasi  दोहरे वेतन को बनाई तीन डुप्लीकेट आईडी, डुप्लीकेट आईडी की शुरुआत 2016 में हुई


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  श्री मुनि इंटर कॉलेज में 23 जनवरी 2019 को डबल आईडी से दोहरा वेतन निकालने का खुलासा हुआ था. पुलिस ने जांच में पाया है कि डुप्लीकेट आईडी की शुरुआत 2016 में हुई थी. तीन कर्मचारियों की डुप्लीकेट आईडी तब बनाई गईं थीं. डिजिटल हस्ताक्षर के बिना यह संभव नहीं.

पुलिस ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय से 2016 में तैनात रहे जिला विद्यालय निरीक्षक और वेतन अपलोड करने वाले कर्मचारी का पूरा ब्योरा मांगा है. अधिकारियों के डिजिटल हस्ताक्षर वाली यह विशेष पेन ड्राइव के बिना वेतन अपलोड नहीं किया जा सकता. पूरे प्रकरण में दो गिरफ्तारियां हुईं हैं. पुलिस ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय को पत्र भेज 2016 में तैनात जिला विद्यालय निरीक्षक समेत सम्बंधित कर्मचारियों के तैनाती स्थल व स्थायी पते के बारे में जानकारी मांगी है. 22 माह की जांच में तीन कर्मचारियों को 53,88,837 रुपये अतिरिक्त भुगतान के आरोप हैं. ऑडिट में यह धनराशि 73,67,106 रुपये पाई गई. तत्कालीन डीआईओएस सतीश कुमार तिवारी ने फरवरी 2020 में थाना चुन्नीगंज में प्रबंधक श्री मुनि इंटर कॉलेज, अवकाश प्राप्त एक प्रधानाचार्य, लिपिक अविनाश, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजेश्वरी, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी बिहारी लाल, डीआईओएस कार्यालय में तैनात तत्कालीन लेखाकार, तत्कालीन वरिष्ठ सहायक डीआईओएस के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी.

वाराणसी न्यूज़ डेस्क
 

Share this story