Samachar Nama
×

Varanasi  ‘दुनिया को 25 फीसदी ऊर्जा देगा भारत’ रविदास घाट पर बनेगा दूसरा सीएनजी स्टेशन
 

Varanasi  ‘दुनिया को 25 फीसदी ऊर्जा देगा भारत’ रविदास घाट पर बनेगा दूसरा सीएनजी स्टेशन

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि वर्ष-2047 तक पूरी दुनिया की कुल ऊर्जा जरूरतों का 25 प्रतिशत हिस्सा भारत से पूरा करने का लक्ष्य है. यह लक्ष्य वैकल्पिक ऊर्जा स्रोतों के लिए चल रहे शोध से पूरा होने का विश्वास है. वर्ष-2047 में भारत की आजादी के सौ वर्ष पूरे होंगे. उसे देखते हुए देश को ऊर्जा क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लक्ष्य पर काम हो रहा है.

हरदीप पुरी  इंडिया एनर्जी वीक 2023 के संबंध में यहां के नमो घाट पर बोल रहे थे. उन्होंने बताया कि फरवरी के पहले सप्ताह से देश के कुछ हिस्सों में 20 प्रतिशत इथेनॉल मिश्रित पेट्रोल मिलने लगेगा. पहले अप्रैल तक इसे उपलब्ध कराने का लक्ष्य था. उन्होंने बताया कि वर्ष 2025 तक पूरे देश में 20 प्रतिशत इथेनॉल मिश्रित पेट्रोल उपलब्ध होगा.
उन्होंने कहा कि बायोफ्यूल को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं. अब इथेनॉल तैयार करने में पराली का उपयोग हो रहा है. पानीपत स्थित रिफाइनरी में पराली से बायोफ्यूल बनाया जा रहा है. बताया कि मक्का के अपशिष्ट का भी बायोफ्यूल में उपयोग होगा. देश की 131 रिफाइनरियों में बायोफ्यूल तैयार होगा.
हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि रविदास घाट पर बनारस का दूसरा सीएनजी स्टेशन बनेगा. पहला स्टेशन खिड़किया घाट पर बना है. प्रदेश सरकार से जमीन मिलते ही काम शुरू हो जाएगा. उन्होंने कहा कि वाराणसी में 580 नावें सीएनजी में तब्दील हो गई हैं. भविष्य में 2000 नावों को सीएनजी में बदलना है. सीएनजी नावें डीजल की तुलना में 18 फीसदी ज्यादा माइलेज देती हैं. नाविकों को ज्यादा बचत भी होती है.


वाराणसी न्यूज़ डेस्क
 

Share this story