Samachar Nama
×

Varanasi  पांडेयपुर फ्लाईओवर में बने गड्ढे और दरारें, ज्वाइंट गैप भी बढ़े, मजबूती दरकने की जिम्मेदारों को नहीं है जानकारी, रखरखाव पर सवाल
 

Varanasi  पांडेयपुर फ्लाईओवर में बने गड्ढे और दरारें, ज्वाइंट गैप भी बढ़े, मजबूती दरकने की जिम्मेदारों को नहीं है जानकारी, रखरखाव पर सवाल


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  पांडेयपुर फ्लाईओवर पर करीब दर्जनभर स्थानों पर गड्ढे और दरारें बन गई हैं. एक्सपेंशन ज्वाइंट में गैप बढ़ गए है. काफी समय से मरम्मत न होने से दुर्घटना की आशंका बनी हुई है. ये गड्ढे फ्लाईओवर के रखरखाव में विभाग की लापरवाही की ओर भी संकेत कर रहे हैं.
ट्रैफिक पुलिस लाइन से पांडेयपुर होते हुए काली माता मंदिर तक जाने वाले करीब एक किलोमीटर लम्बे फ्लाईओवर का निर्माण जनवरी 2011 में हुआ था. करीब 150 करोड़ की लागत बने इस फ्लाईओवर का तत्कालीन लोकनिर्माण मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने लोकार्पण किया था.

12 साल के अंदर फ्लाईओवर की मजबूती दरकने लगी है. फ्लाईओवर के पुलिस लाइन छोर पर लगभग दो फीट चौड़ा गड्ढा बन गया है. कई छोटे-बड़े गड्ढों और दरारों की वजह से इसपर चलना जोखिम भरा है. उल्लेखनीय है कि देश-विदेश से आने वाले सैलानी इसी रास्ते सारनाथ भ्रमण के लिए जाते हैं. इसके बावजूद जिम्मेदार अफसरों का फ्लाईओवर की बदहाली की ओर ध्यान नहीं जा रहा है. सेतु निगम के अधिकारियों का कहना है कि फ्लाईओवर व सड़क मरम्मत की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी की है. सड़क लेपन ठीक तरह से न होने के कारण इस तरह की दिक्कत होती है.
खतरा
दरारें ले रहीं गड्ढों का रूप
काफी समय से मरम्मत न होने से फ्लाईओवर के दोनों छोरों पर कई जगह बनीं दरारें धीरे-धीरे गड्ढे का रूप ले रही हैं. बारिश होने पर उनमें पानी भर जाता है. तब वाहन सवारों को गड्ढों का अंदाज नहीं लग पाता है. इनसे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है.

वाराणसी न्यूज़ डेस्क
 

Share this story