Samachar Nama
×

Samba एनआईटी श्रीनगर हिंदी को बढ़ावा देने के लिए बहुभाषी आधिकारिक पत्रों को प्रोत्साहित कर रहा है
 

Samba एनआईटी श्रीनगर हिंदी को बढ़ावा देने के लिए बहुभाषी आधिकारिक पत्रों को प्रोत्साहित कर रहा है


जम्मू एंड कश्मीर न्यूज़ डेस्क,  एनआईटी श्रीनगर हिंदी को बढ़ावा देने के लिए बहुभाषी आधिकारिक पत्रों को प्रोत्साहित कर रहा है.यह जानकारी  राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) श्रीनगर में शुरू हुए हिंदी पखवाड़ा समारोह के दौरान दी गई. कार्यक्रम का आयोजन 'राजभाषा प्रकोष्ठ' द्वारा किया जा रहा है जिसमें 29 सितंबर तक आयोजकों द्वारा विभिन्न गतिविधियों की शुरूआत की गई है.

इस आयोजन से पहले, एनआईटी श्रीनगर के तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने सूरत गुजरात में दूसरे अखिल भारतीय राजभाषा सम्मेलन और हिंदी पखवाड़ा में भाग लिया. सम्मेलन में मुख्य अतिथि गृह मंत्री अमित शाह थे.
प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों में हिंदी अधिकारी डॉ. रवि भूषण (सहायक प्रो. ईईडी), मोहम्मद इकबाल डार (सदस्य राजभाषा सेल और एआर एडमिन); सबज़ार अहमद बाटो (हिंदी अनुवादक) ने दोनों कार्यक्रमों में भाग लिया.
एनआईटी श्रीनगर में उद्घाटन कार्यक्रम की अध्यक्षता निदेशक एनआईटी श्रीनगर, प्रो. (डॉ.) राकेश सहगल ने की. इस अवसर पर संस्थान के रजिस्ट्रार प्रो. सैयद कैसर बुखारी और प्रो. अब्दुल लियामन मुख्य अतिथि थे.
सभा को संबोधित करते हुए प्रो. सहगल ने परिसर में हिंदी पखवाड़ा आयोजित करने के लिए राजभाषा प्रकोष्ठ की सराहना की. उन्होंने कहा कि यह एक अच्छी शुरुआत है और एनआईटी श्रीनगर में राजभाषा को लागू करने के लिए कई प्रयास किए जा रहे हैं.

साम्बा न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story