Samachar Nama
×

Rewari सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में 100 नई हट्स बनेंगी, पेयजल और बिजली व्यवस्था दुरुस्त होंगी
 

Rewari सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में 100 नई हट्स बनेंगी, पेयजल और बिजली व्यवस्था दुरुस्त होंगी

हरियाणा न्यूज़ डेस्क, अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला परिसर में शिल्पकारों के लिए 100 नई हट्स बनेंगी. साथ ही मेला परिसर की करीब 1100 हट्स को दुरुस्त किया जाएगा.
देश -विदेश के शिल्पकार इसमें अपनी कलाकृतियों का प्रदर्शन और बिक्री कर सकेंगे. इसके लिए हरियाणा पर्यटन निगम ने निविदाएं जारी कर दी हैं. इस कार्य पर करीब 66 लाख रुपये खर्च होंगे और 15 जनवरी से पहले इसे पूरा कर लिया जाएगा.
अगले वर्ष तीन से 19 फरवरी 2023 तक आयोजित होने वाले 36वें अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले के थीम स्टेट लिए उत्तर-पूर्वी राज्यों को मौका दिया गया है. इसके मद्देनजर उत्तर पूर्वी राज्यों से इस बार हस्तशिल्पी अधिक आने की उम्मीद है. इसलिए करीब सौ हट्स नई बनवाई जाएंगी. बीते दिनों उत्तर-पूर्वी हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम के अधिकारियों ने मेला परिसर का निरीक्षण किया था उनके प्रस्ताव के मद्देनजर ही नई हट्स तैयार होगी. मेले के थीम स्टेट उत्तर-पूर्व के आठ राज्यों अरुणाचल, असम, नागालैंड, मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा, मिजोरम और सिक्किम के आठ राज्यों को मौका दिया गया है. ऐसे में इन राज्यों से करीब 200 हस्तशिल्पियों के मेले में आने की उम्मीद है. जबकि इन आठ राज्यों समेत देश के अन्य विभिन्न राज्यों के करीब 500 राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित हस्तशिल्पियों को मेले में शिरकत करने का मौका मिलेगा. पहली बार होगा जब 500 से अधिक राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित हस्तशिल्पी मेले में शिरकत करेंगे.

दो विदेशी जोन बनेंगे
मेला परिसर में पहली बार दो विदेशी जोन बनेंगे. शंघाई सहयोग संगठन से जुड़े देशों समेत करीब तीस देशों के हस्तशिल्पी शिरकत करेंगे. ऐसे में दो विदेशी कॉर्नर में करीब 140 हट्स तैयार होंगी. अभी तक विदेशी कॉर्नर में करीब 90 हट्स हैं. इसमें करीब 50 हट्स बढ़ाई जाएंगी. शंघाई सहयोग संगठन से जुड़े देशों को मेले में भागीदार देश के रूप में भागीदारी के लिए चुना गया है.
हरियाणा पर्यटन निगम ने मेला परिसर की सफाई, रंगाई-पुताई, पेयजल और बिजली जैसी मूलभूत व्यवस्थाओं को पूरा करने के लिए भी कंपनियों को आमंत्रित किया है. काम लेने वाली कंपनी को आठ जनवरी तक काम पूरा करना होगा. इच्छुक कंपनियों को मेला परिसर का दौरा करके निविदाएं भरनी होगी.
अगले वर्ष होने वाले मेले की तैयारी शुरू हो गई है. करीब सौ नई हट्स बनेंगी. सभी तैयारी जनवरी तक पूरी कर ली जाएंगी. इसके लिए कुछ निविदाएं जारी की गई हैं.
-नीरज कुमार, प्रबंध निदेशक, हरियाणा पर्यटन निगम

रेवाड़ी न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story