Samachar Nama
×

Pratapgarh अधेड़ की गमछे से गला घोंटकर हत्या, गांव के पास ही क्रिकेट मैच देखने गया था अधेड़,  रात मिली थी बाइक और  सुबह मिला शव
 

Pratapgarh अधेड़ की गमछे से गला घोंटकर हत्या, गांव के पास ही क्रिकेट मैच देखने गया था अधेड़,  रात मिली थी बाइक और  सुबह मिला शव


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  ग्ांव के पास हो रहे क्रिकेट टूर्नामेंट में मैच देखने गए अधेड़ की गमछे से गला दबाकर हत्या कर दी गई. दूसरे दिन गांव से बाहर उसका शव पाया गया. भाई ने मैच के दौरान विवाद करने वालों पर हत्या करने की आशंका जताते हुए तहरीर दी है. पोस्टमार्टम के बाद शव घर पहुंचा तो परिजन एफआईआर दर्ज किए जाने की मांग को लेकर अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिए.

जेठवारा थाना क्षेत्र के नागापुर पूरेमोतीलाल निवासी कृष्ण कुमार यादव (45)  अपने 8 साल के भतीजे रोहित को बाइक पर बैठाकर गांव के पास क्रिकेट मैच देखने गया था. वहां उसका कुछ लोगों से विवाद हुआ, हालांकि कुछ लोगों ने शांत करा दिया. रोहित शाम को कुछ अन्य बच्चों के साथ शाम को घर चला गया और घटना की जानकारी परिजनों को दी. रात आठ बजे तक कृष्णकमार घर नहीं आया और मोबाइल बंद मिला तो परिवार के लोग उसकी तलाश करने लगे. देर रात करीब के गांव अइजका के वीरान में रखे पुआल के ढेर के पास उसकी बाइक लावारिस मिल गई. रात भर उसका कुछ पता नहीं चला.  सुबह बाइक मिलने के स्थान पर ही उसका शव पाया गया. गले में गमछा कसा था. ऐसे में परिजन हत्या का आरोप लगाने लगे. पोस्टमार्टम में गला कसकर हत्या की बात सामने आई. देरशाम पुलिस ने दिनेश यादव की तहरीर पर अमर बहादुर व धर्मेंद्र को नामजद करते हुए दो अज्ञात के खिलाफ हत्या की एफआईआर दर्ज कर लिया. मृतक के परिजन आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे. शव घर पर ही रखा रहा.
विधायक से बात कराने के बाद पुलिस ने उठाया शव
जेठवारा के अइजका के वीराने में शव मिलने के बाद परिजन आक्रोशित हो उठे और हत्या का आरोप लगाने लगे. कटरा गुलाब सिंह चौकी इंचार्ज राकेश भदौरिया पहुंचे तो परिजनों ने उन्हें शव उठाने से रोक दिया. वे रानीगंज विधायक डॉ. आरके वर्मा के आने पर शव उठाने की बात करने लगे. एसओ अभिषेक सिंह सिरोही पहुंचे तब भी लोग शव नहीं उठाने दिए. एसओ ने बाद में परिजनों की विधायक से बात कराई. विधायक के आश्वासन पर पुलिस शव कब्जे में ले सकी.


प्रतापगढ़ न्यूज़ डेस्क
 

Share this story