Samachar Nama
×

Patna  हरियाली क्षेत्र 17 करने को तेजी से पौधरोपण कराएं नीतीश
 

Patna  हरियाली क्षेत्र 17 करने को तेजी से पौधरोपण कराएं नीतीश


बिहार न्यूज़ डेस्क  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि राज्य का हरियाली क्षेत्र (हरित आवरण) कम-से-कम 17 प्रतिशत तक हो जाए, इसके लिए लक्ष्य के अनुरूप तेजी से और पौधरोपण कराएं. मुख्यमंत्री ने पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग की  समीक्षा की और कई दिशा-निर्देश पदाधिकारियों को दिये.

समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार से झारखंड के अलग होने के बाद राज्य का हरित आवरण क्षेत्र नौ प्रतिशत रह गया था. वर्ष 2012 में हरियाली मिशन की शुरुआत की गई. इसमें 24 करोड़ पौधरोपण का लक्ष्य रखा गया था, जिसमें 22 करोड़ पौधे लगाये गये. बड़ी संख्या में पौधरोपण किये जाने से राज्य का हरित आवरण क्षेत्र बढ़कर अब 15 प्रतिशत तक पहुंच गया है. जल-जीवन-हरियाली अभियान की शुरुआत वर्ष 2019 में की गई. जल-जीवन-हरियाली अभियान के अन्तर्गत हरियाली को बढ़ाने एवं जल संरक्षण के लिये योजनाबद्घ ढ़ंग से काम किया जा रहा है. पौधरोपण गतिविधि में लोगों को शामिल कर सभी जिलों में अधिक-से-अधिक पौधा लगाने का लक्ष्य रखा गया है. उन्होंने कहा कि सड़क के किनारे पौधरोपण किये जा रहे हैं. राजगीर, गया और अन्य पर्वतीय क्षेत्रों में पौधरोपण के लिए बीज डाला गया, जिससे वृक्षों की संख्या बढ़ी है. कहा कि राज्य में जलवायु अनुकूल किये गये कार्यों की प्रशंसा देश के बाहर भी हो रही है. जलवायु परिवर्तन को लेकर संयुक्त राष्ट्र के उच्चस्तरीय राउंड टेबल कांफ्रेंस में मुझे राज्य सरकार द्वारा चलाये जा रहे जल-जीवन-हरियाली अभियान के संबंध में संबोधित करने का मौका मिला था, जिसमें मैंने इसके संबंध में विस्तार से जानकारी दी थी.
बैठक में पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से विभाग की नीतियों एवं प्राथमिकताओं के संबंध में विस्तृत जानकारी दी.
बैठक में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री तेजप्रताप यादव, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. एस सिद्घार्थ, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्यपदाधिकारी गोपाल सिंह आदि थे.


पटना  न्यूज़ डेस्क
 

Share this story