Samachar Nama
×

Nashik संत किशनलाल शर्मा का मार्गदर्शन : मनोबल बढ़ाने के लिए विहंगम योग साधना अत्यंत उपयोगी है
 

Nashik संत किशनलाल शर्मा का मार्गदर्शन : मनोबल बढ़ाने के लिए विहंगम योग साधना अत्यंत उपयोगी है

महाराष्ट्र न्यूज़ डेस्क, विहंगम योग का अद्भुत योग अभ्यास नकारात्मकता, अवसाद से छुटकारा पाने और मनोबल बढ़ाने में मदद करता है। विहंगम योग के राष्ट्रीय संत किशनलाल शर्मा ने कहा कि यह योग मानसिक रोगों के लिए रामबाण है। वे डिंडोरी में आयोजित 'विहंगम योग: दर्शन एवं ध्यान' विषय पर बोल रहे थे। उनके सत्संग-प्रवचन का लाभ लेने के लिए विभिन्न क्षेत्रों के गणमान्य व्यक्तियों की अच्छी खासी उपस्थिति रही

संत किशनलालजी के ओजपूर्ण भाषण द्वारा विहंगम योग के दर्शन की जानकारी दी गई और अंत में उपस्थित लोगों को ध्यान की शिक्षा भी दी गई। नासिक में 4 व 5 फरवरी को होने वाले दो दिवसीय राज्य स्तरीय भव्य आध्यात्मिक समारोह में आप सभी आमंत्रित हैं। पहले दिन विहंगम योग के वर्तमान सद्गुरु श्री स्वतंत्र देवी महाराज एवं उनके उत्तराधिकारी पूज्य की अमृत वाणी का लाभ उठा सकते हैं। संतप्रवर श्री विज्ञान देव महाराज एवं दूसरे दिन प्रातः 1001 कुण्डीय विश्वशांति वैदिक यज्ञ का भव्य आयोजन किया गया है। सभी आध्यात्मिक प्रेमियों से इस अभूतपूर्व अवसर का लाभ उठाने का आग्रह किया गया। कार्यक्रम की व्यवस्थित योजना पूर्व नगरसेवक व समाजसेवी माधवराव सालुंखे ने की। इसमें उन्होंने साधना अनुष्ठान के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि इस विधि से नकारात्मकता दूर होती है और सकारात्मकता बढ़ती है।
नाशिक न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story