Samachar Nama
×

Nagaur टेंडर से पहले ही काटे गए 20 बीघा में खड़े 522 पेड़, तहसीलदार ने भूमि निरीक्षक को भेजकर कटनी रुकवाई
 

Nagaur टेंडर से पहले ही काटे गए 20 बीघा में खड़े 522 पेड़, तहसीलदार ने भूमि निरीक्षक को भेजकर कटनी रुकवाई

राजस्थान न्यूज डेस्क, 21 करोड़ की लागत से बनने वाले कॉलेज के निर्माण में काम करने की एक एजेंसी को इतनी जल्दी है कि टेंडर प्रक्रिया से पहले ही यहां खड़े पेड़ नजर आने लगे हैं. सूत्रों के मुताबिक अब तक इस जगह से बड़े पैमाने पर पेड़ों को काटने का काम होता रहा है और जिम्मेदारों को इसकी भनक तक नहीं है.

हालत यह है कि गुरुवार को भी इस 20 बीघे में खड़े पेड़ों और झाड़ियों को काटने का काम बड़े पैमाने पर चल रहा था. इस पूरे मामले को लेकर तहसीलदार दर्शना ने बताया कि पेड़ों की कटाई का काम चल रहा था, जिसे अब बंद कर दिया गया है. वह खुद मौके पर नहीं गई हैं।

पटवारी हड़ताल पर हैं, इसलिए आरआई को मौके पर भेजा गया। आरआई ने अभी तक मौके की रिपोर्ट नहीं दी है। अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि नर्सिंग कॉलेज कहां बनेगा, कितने जगह पेड़ हैं, इसकी जानकारी नहीं है।

निगरानी समिति भी बनाई गई है, जो हर दो महीने में गुणवत्ता की जांच करेगी और दो बार रिपोर्ट देगी।

इधर, कलेक्टर पीयूष सामरिया ने नवीन राजकीय नर्सिंग कॉलेज के निर्माण कार्यों की गुणवत्ता की निगरानी के लिए निगरानी समिति का भी गठन किया है. उक्त समिति हर माह दो बार निर्माण कार्यों की निगरानी कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी.

इस कमेटी में एडीएम मोहन लाल खटनावालिया, एसडीएम सुनील पंवार, तहसीलदार, सदस्य, सीएमएचओ महेश वर्मा, नोडल अधिकारी पीएमओ महेश पंवार, अमित सांखला कार्यवाहक स्वास्थ्य प्रबंधक व ईश्वर सिंह शेखावत, कनिष्ठ सहायक, सरकारी अस्पताल के सदस्य मौजूद हैं.
नागौर न्यूज डेस्क!!!

Share this story