Samachar Nama
×

Muzaffarpur साइबर फ्रॉड अनजान कॉल को न करें रिसीव,अनावश्यक एप डाउनलोड करने से बचें
 

Muzaffarpur साइबर फ्रॉड अनजान कॉल को न करें रिसीव,अनावश्यक एप डाउनलोड करने से बचें

बिहार न्यूज़ डेस्क  अघोरिया बाजार स्थित जनहित मंच के कार्यालय पर  साइबर अपराध एवं बचाव विषय पर सेमिनार आयोजित किया गया. इसमें मुख्य अतिथि जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष रामकृष्ण ठाकुर उर्फ रामबाबू ठाकुर ने कहा कि साइबर फ्रॉड से बचने के लिए सतर्कता आवश्यक है. किसी भी अनजान कॉल, मैसेज, ई-मेल, वीडियो कॉल के लिंक को मोबाइल में रिसीव करने में सतर्कता बरतने की सलाह दी.

कार्यक्रम में आईबीएम के साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर सौरभ कुमार ने ऑनलाइन साइबर अपराध से बचाव को लेकर कई बिंदुओं पर सुझाव दिए. इसमें बताया कि अगर किसी अनजान कॉल को रिसीव करते हैं और कॉलर की तरफ से कोई आवाज सुनाई नहीं देती है तब आपके साथ साइबर फ्रॉड हो सकता है. उन्होंने बताया कि 92, 9322, 11 नंबर से कॉल आती है तो ट्रू कॉलर से रेड बैकग्राउंड में स्पैम फ्रॉड लिखा होता है. इस तरह की कॉल रिसीव नहीं करनी चाहिए. इसे स्थाई रूप से ब्लॉक कर दें. लापरवाही के कारण साइबर फ्रॉड होने पर 24 घंटे के अंदर भारत सरकार की साइबर सेल के हेल्पलाइन नंबर 1930 पर अविलंब कॉल कर शिकायत दर्ज करानी चाहिए.
साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर सौरभ कुमार ने बताया कि अनावश्यक एप डाउनलोड नहीं करने करें. अनजान वीडियो कॉल भी रिसीव नहीं करें. जनहित मंच के सचिव सुशील कुमार सिंह ने सरकार से सूबे की साइबर सेल को संसाधनों से मजबूत करने की मांग की. कार्यक्रम के दौरान साइबर अपराध के शिकार तीन पीड़ितों ने अपने साथ घटित घटना व ठगी के तरीके को साझा किया.


मुजफ्फरपुर न्यूज़ डेस्क 
 

Share this story