Samachar Nama
×

Munger जिले के पांच बदमाश लखीसराय में हुए गिरफ्तार
 

Munger जिले के पांच बदमाश लखीसराय में हुए गिरफ्तार


बिहार न्यूज़ डेस्क  चलती ट्रेनों में छिनतई और नशाखुरानी की घटनाओं को अंजाम देने वाले पांच अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. सभी अपराधी मुंगेर जिले के बताए जा रहे हैं. वहीं दो अपराधी भागने में सफल रहे. उनमें से भी एक मुंगेर और दूसरा झारखंड का बताया जा रहा है. किऊल आरपीएफ व जीआरपी की पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सभी अपराधियों को गिरफ्तार किया है. सभी लखीसराय रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या 3 और 4 के पश्चिमी छोड़ के पास मौजूद थे.

रेल पुलिस के मुताबिक सभी अपराधी चलती ट्रेनों एवं रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों का मोबाइल, पर्स, कीमती सामान आदि की छिनतई व चोरी की वारदातों को अंजाम देते थे. इतना ही नहीं दूरदराज से आने वाले यात्रियों के साथ आपसी संबंध स्थापित कर नशा खुरानी का भी शिकार बनाते थे और उनके सामानों को लूट लिया करते थे. बताया जा रहा है कि सभी अपराधी बुधवार की सुबह मुंगेर से ऑटो से निकले थे. किऊल में ये लोग किऊल-गया पैसेंजर ट्रेन पर सवार हुए थे. रेल डीएसपी इमरान परवेज के मुताबिक दस लोगों का यह गिरोह है. इनमें से कुछ लोगों का काम है कि वे यात्री का ध्यान भटकाएं, कोई जेब काटता है तो कोई चोरी की घटना को अंजाम दे डालता है. गिरफ्तार अपराधियों में मुंगेर जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र के पूरब सराय निवासी स्व मो हैदर अली के पुत्र 30 वर्षीय मो सरफराज उर्फ चांद, यही के मिन्नत नगर निवासी मो सलाउद्दीन के 28 वर्षीय पुत्र आफताब आलम, गुलजार पोखर विषहरी स्थान के नजदीक रहने वाले स्व मोहम्मद इब्राहिम के 48 वर्षीय पुत्र मो हारुन, घसियार मोहल्ला के मो यूसुफ के 40 वर्षीय पुत्र मो इकराम और बरियारपुर थाना क्षेत्र के बकिया सोती निवासी स्व शिव प्रसाद यादव के 40 वर्षीय पुत्र संतोष कुमार शामिल हैं. अपराधियों के पास से दो एमबी का एटीमार्क टेबलेट 20 पीस, 5 मोबाइल (तीन कीपैड और दो टचस्क्रीन) के साथ ही ₹17846 बरामद किए गए हैं. वही मौके पर से भागने वाले अपराधियों में मुंगेर जिले के जमालपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत संतोष कुमार और झारखंड के जामताड़ा के रहने वाले मो आफताब शामिल हैं.
गिरफ्तार अपराधियों ने अपने स्वीकारोक्ति बयान में बताया है कि वे लोग चोरी किए गए जेवरातों को मुंगेर जिले के ही जमालपुर सोनरपट्टी में बेचने का काम करते थे. जेवर की खरीदारी करने वाले की भी पहचान हुई है, को लेकर कार्रवाई की जा रही है.
रेल डीएसपी ने बताया कि दशहरा को लेकर ट्रेनों में विशेष निगरानी रखी जा रही है. 17 स्कॉर्ट ट्रेनों में गश्ती कर रहे हैं. इसी कड़ी में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. गिरफ्तारी टीम में किऊल रेल थानाध्यक्ष कामेश्वर चौधरी, रेलवे सुरक्षा बल किऊल के प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुमार, एसआई ललन कुमार सिंह, एएसआई विजय करकेट्टा, हवलदार निसार आलम, पीटीसी राकेश कुमार ठाकुर, धर्मेंद्र कुमार, अंकुर, राजेश कुमार, सिपाही विनय कुमार शामिल हैं. उन्होंने कहा कि गिरफ्तार अपराधियों को जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही.

मुंगेर न्यूज़ डेस्क
 

Share this story