Samachar Nama
×

Motihari  रामकृष्ण तिलक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान बिना छात्रावास के ही चल रहा है आईटीआई
 

Motihari  रामकृष्ण तिलक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान बिना छात्रावास के ही चल रहा है आईटीआई


बिहार न्यूज़ डेस्क  बिस्फी के खिखड़ीपट्टी स्थित राजकीय बुनियादी रामकृष्ण तिलक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान मूलभूत सुविधाओं की कमी से जूझ रहा है.इसकी स्थापना वर्ष 2008 में विधायक हरिभूषण ठाकुर बचोल की अनुशंसा पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने करायी थी स्थापना के 15 साल बीतने के बाद भी संस्थान मेंछात्रों के लिए छात्रावास की व्यवस्था नहीं की गयी है.जिसके कारण जिले के विभिन्न भागों से प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले छात्रों को रोज आने-जाने में काफी परेशानी होती है. सबसे ज्यादा परेशानी लड़कियों को होती है जो दूसरे जिले से भी प्रशिक्षण लेने के लिए संस्थान में नामांकन करायी है. राम तिलक संस्थान में वर्तमान समय में 360 छात्र प्रशिक्षण ले रहे हैं.

इनमें लड़कियों की संख्या एक दर्जन से अधिक है फीडर, इलेक्ट्रिशियन, आईसीटीएस, आरएसी,बेल्डर, मैकेनिक डीजल छह ट्रेडों की पढ़ाई होती है.संस्थान में वर्तमान समय में चार इन्सट्रक्टर और तीन गेस्ट इंस्ट्रक्टर हैं.संस्थान में कार्यरत तीन इंस्ट्रक्टरों को जिले में प्रतिनियुक्ति किया गया है. मुख्य सड़क एनएच105 से संस्थान डेढ़ किमी दूर है. आईटीआई परिसर तक पहुंचने के लिए जर्जर और उबड़-खाबड़ सड़क से ही आना-जाना पड़ता है.

मोतिहारी  न्यूज़ डेस्क
 

Share this story