Samachar Nama
×

Moradabad मीडिया का लगा जमावड़ा, परिवार ने केस को बताया साजिश
 

Moradabad मीडिया का लगा जमावड़ा, परिवार ने केस को बताया साजिश


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  गैंगरेप पीड़िता का निर्वस्त्रत्त् हालत में सड़क पर दौड़ते हुए वीडियो वायरल होने के बाद  गांव में मीडिया का जमावड़ा रहा. पुलिस व मजिस्ट्रेट ने गांव पहुंच कर परिजनों से बातचीत कर जानकारी ली. पीड़िता के माता-पिता दर्ज कराए गए मुकदमे को साजिश बताते रहे. उधर पुलिस ने भी बताया कि पांच आरोपियों पर आरोप लगा था, चार के खिलाफ कोई साक्ष्य अब तक नहीं मिले है.

ठाकुरद्वारा थाना क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने 7 सितंबर को भोजपुर थाने में गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कराया था. जिसमें बताया कि उसकी भतीजी को बाइक सवार पांच आरोपियों ने अगवा कर जंगल में ले जाकर गैंगरेप किया. बाद में उसे नग्न अवस्था में ही छोड़कर भाग गए. पुलिस ने पांच के खिलाफ गैंगरेप का केस दर्ज कर नौशे अली नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. इस बीच बुधवार को एक महिला ने पुलिस को ट्विटर पर एक वीडियो टैग कर बताया कि यह गैंगरेप पीड़िता है, जिसे आरोपियों ने निर्वस्त्रत्त् हालत में सड़क पर दौड़ाया. उक्त वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया.  बाल कल्याण समिति, एएचटीयू, एलआईयू गांव में अपने-अपने स्तर से जांच पड़ताल करने में जुटी रही. पीड़िता के माता-पिता और गांव के तमाम लोगों ने का कि प्रधानी और कोटेदारी की रंजिश में साजिश के तहत यह मुकदमा दर्ज कराया गया है. जो पूरी तरह फर्जी है. एसएसपी हेमंत कुटियाल ने कहा कि गैंगरेप का मुकदमा दर्ज है. एक आरोपी को गिरफ्तार किया जा चुका है. हालांकि पीड़िता के मेडिकल में रेप की पुष्टि नहीं हुई.


मुरादाबाद न्यूज़ डेस्क
 

Share this story