Samachar Nama
×

Meerut  एलएलबी, कृषि प्रवेश में टॉप पर, बाकी खाली, एलएलबी में 92.06 सीटें भरीं, एजी में 99 फीसदी 
 

Meerut  एलएलबी, कृषि प्रवेश में टॉप पर, बाकी खाली, एलएलबी में 92.06 सीटें भरीं, एजी में 99 फीसदी 


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  विवि कैंपस और संबद्ध कॉलेजों में पीजी कोर्स में एलएलबी एवं एमएससी कृषि प्रवेश में टॉप पर हैं. बाकी कोर्स में सीटें नहीं भर पाईं, जबकि इन दोनों ही कोर्स में 90 फीसदी से अधिक प्रवेश हुए हैं. कैंपस में एमएससी प्रोग्राम को अच्छा रिस्पांस मिला है और अधिकांश सीटें भर गई हैं. हालांकि पीजी के समस्त ट्रेडिशनल-प्रोफेशनल, सर्टिफिकेट एवं डिप्लोमा कोर्स में कुल 34 हजार 663 सीटों में से 24 हजार 826 यानी 71.62 फीसदी ही प्रवेश हुए हैं. इसमें 12 हजार 386 छात्र और 12 हजार 440 छात्राएं हैं.
विवि प्रवेश पोर्टल के अनुसार एलएलबी में 13 हजार 140 सीटों में से 12 हजार 97 प्रवेश हुए हैं, जो 92.06 फीसदी हैं. एलएलबी में 8521 छात्र और 3576 छात्राओं ने प्रवेश लिया. एमएससी एजी में 710 सीटों में से 703 प्रवेश हुए हैं, जो 99.01 फीसदी हैं. इस कोर्स में 631 छात्रों के साथ-साथ 72 छात्राओं ने भी प्रवेश लिया है. कैंपस में एमए-सीबीसीएस में 81.48, एमएएसी सीबीसीएस में सौ फीसदी प्रवेश हुए हैं. कॉलेजों में एमए में मात्र 50.94 एवं एमएएसी में 56.94 फीसदी सीटों पर ही प्रवेश हुए. एमकॉम में 64.72 फीसदी सीटों पर प्रवेश हो सके. सबसे कम प्रवेश पीजी डिप्लोमा कोर्स में मात्र 25.12 फीसदी हुए हैं.

भाषाओं में अंग्रेजी से आगे निकली हिन्दी
पीजी स्तर पर भाषाओं के विषय में हिन्दी अंग्रेजी से आगे रही है. हिन्दी में 52.83 फीसदी सीटों पर प्रवेश हुए हैं, जबकि अंग्रेजी में 49.16 फीसदी पर. 37.5 फीसदी सीटों पर प्रवेश से उर्दू तीसरे और 20.8 फीसदी से संस्कृत चौथे नंबर पर रही है.
कुलपति से मिली एसोसिएशन, पोर्टल खोलने की मांग
पीजी में हजारों सीटें खाली रहने पर सेल्फ फाइनेंस डिग्री कॉलेजेस वेलफेयर एसोसिएशन ने कुलपति प्रो. संगीता शुक्ला से मिलकर पोर्टल को फिर से खोलने की अपील की. प्रवक्ता डॉ. कुलदीप चौहान के अनुसार एसोसिएशन ने कुलपति के समक्ष कॉलेजों की पूरी स्थिति पेश कर दी है. जब प्रवेश ही नहीं होंगे तो कॉलेज कैसे चल पाएंगे.


मेरठ न्यूज़ डेस्क
 

Share this story