Samachar Nama
×

Mathura  चिटफंड कंपनियों की नेटवर्किंग में सिसकते युवा
 

Mathura  चिटफंड कंपनियों की नेटवर्किंग में सिसकते युवा


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   बातों ही बातों में लग्जरी लाइफ का सब्जबाग दिखा युवकों को चिटफंड मार्केटिंग की नेटवर्किंग में फंसा गरीबों का जमा धन हड़पकर करोड़पति बन बैठे व्यक्तियों के खिलाफ जनाक्रोश पनप रहा है. सच्चाई जानने के बाद इन कंपनियों में कार्यरत युवक निवेशकों का धन निकालने के प्रयास में जुट गए हैं.

जनपद में चिटफंड कंपनियों का एक समूह पिछले कई वर्षों से ग्रामीणों के बीच काम कर रहा है. इन कंपनियों ने गांव के बेरोजगार युवाओं को नेटवर्किंग से जुड़ने और लोगों को जोड़ने के अविश्वसनीय परिणाम बताए. फिर उनसे काम लेना शुरू कर दिया. युवका अपने सगे संबंधियों, व्यवहारियों व ग्रामीणों की जमा पूंजी इस नेटवर्किंग में लगाते रहे. यह युवा इन निवेशकों को तीन से चार वर्षों में जमा पूंजी को दुगना करने का भरोसा दिया. धीरे-धीरे करके कंपनियों में करोड़ों रुपये का निवेश होता चला गया. इस बीच चिटफंड की लूट का ललितपुर से भोपाल कनेक्शन व महरौनी का खेल सामने आने के बाद काफी हो हल्ला मचा.
लेकिन, कोई ठोस कार्रवाई अभी तक नहीं हो सकी. समय पूरा होने के बावजूद निवेशकों के करोड़ों रुपये उनको वापस भी नहीं हो सके. जिसकी वजह से चिटफंड मार्केटिंग के जाल में फंसे युवक खुद को फंसा हुआ महसूस कर रहे हैं. ललितपुर को लूटने के बाद भोपाल को अपना ठिकाना बना चुके चिटफंड लुटेरे के खिलाफ वह बहुत जल्द साक्ष्यों के साथ मोर्चा खोलने वाले हैं.


मथुरा न्यूज़ डेस्क
 

Share this story