Samachar Nama
×

Mathura  बारिश के चलते तिरपाल तान किया अंतिम संस्कार
 

Mathura  बारिश के चलते तिरपाल तान किया अंतिम संस्कार


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  हुई बरसात ने एक जलती चिता को बुझा दिया. चिता की लकड़ियां गीली होने पर ग्रामीणों ने दोबारा सूखे ईंधन की व्यवस्था कर बरसात में तिरपाल तानकर शव का अंतिम संस्कार किया. ग्रामीणों ने प्रशासन से श्मशान स्थल पर टीनशैड लगाने की मांग की है.
ग्रामीणों का कहना है कि गांव में वर्षों से शमशान स्थल बदहाल है.

बरसात से बचाव के लिए टीन शेड भी नहीं लगा है. बरसात के मौसम में शव का दाह संस्कार करने में काफी परेशानी होती है. इस सम्बंध में कई बार अधिकारी और जनप्रतिनिधियों को पत्राचार के माध्यम से अवगत कराया जा चुका है लेकिन समस्या जस के तस बनी हुई है. चौमुहां विकास खंड के गांव डिरावली में सड़क दुर्घटना में हुई युवक की मौत के बाद परिवारीजन और ग्रामीण शव का अंतिम संस्कार करने के लिए श्मशान भूमि पर ले गए. जैसे ही चिता को मुखाग्नि दी गई उसी वक्त अचानक मौसम खराब हो गया और तेज बरसात होने लगी. जलती चिता बुझ गई. काफी देर इंतजार के बाद भी बरसात बंद न हुई तो ग्रामीणों ने दोबारा सूखी लकड़ियों का बंदोबस्त कर बरसात की बूंदों से बचाव करने के लिए तिरपाल का सहारा लेकर शव का अंतिम संस्कार किया.


मथुरा न्यूज़ डेस्क
 

Share this story