Samachar Nama
×

Madhubani धान खरीदारी के लिए 132 समितियों को मिली स्वीकृति
 

Madhubani धान खरीदारी के लिए 132 समितियों को मिली स्वीकृति


बिहार न्यूज़ डेस्क जिले में धान की सरकारी खरीद की धीमी गति है. सरकारी दर पर प्रति क्विंटल दर 2040 रुपये निर्धारित है. इसके साथ ही धान की नमी को पैमाना माना गया है. जबकि खुले बाजार और बाजार समिति में किसान सीधे अपना धान 16 से 17 सौ प्रति क्विंटल की दर पर बेच दे रहे हैं. इसमें किसानों को धान की नमी और अन्य तकनीकी बाधा नहीं आ रही है. इसके बाद भी जिले के 26 हजार किसानों ने धान बेचने के लिए ऑनलाइन अपना आवेदन दिया है. इसके तहत खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में धान खरीदारी के निर्धारित लक्ष्य 80 हजार एमटी के एवज में 427 एमटी धान की खरीदारी की गयी है. यह धान 69 किसानों से खरीदा गया है. इसमें से 368 एमटी धान का भुगतान भी किसानों के खाते में कर दिया गया है.

धान बेचने वाले किसानों को 24 घंटे के अंदर भुगतान का समय निर्धारित किया गया है. इस अवधि में हर हाल में किसानों के खाता में राशि भेजना है. इस खरीदारी के लिए जिले में अबतक 132 समितियों को स्वीकृति दी गई है और आठ अनुमति की प्रत्याशा में हैं. इसकी प्रक्रिया पूरी की जा रही है. किसान हरदेव पासवान, सोनफी राय, सोगरथ यादव, सहदेव यादव, गोविन्द झा आदि ने बताया कि किसान अब अपने धान को तेजी से काटकर खलिहान में रख रहे हैं. सरकारी दर पर धान बेचने के लिए वे आवेदन दिया है. समिति के द्वारा धान खरीदारी के लिए कहा गया है. धान की ओसौनी की गई है. इसे खलिहान में सुखाया गया है. अब किसानों के द्वारा बिक्री की जा रही है. दिसंबर में इसे बड़े पैमाने पर किसान बेचेंगे. बताया धान कटनी की धीमी गति और अधिक नमी के कारण इसमें दिसंबर माह में ही तेजी आने की संभावना है. फिलहाल जिन पैक्सों के तहत किसान धान बेचना चाहते हैं, वहां से खरीदारी शुरू कर दिया गया है. जिला सहकारिता पदाधिकारी सह एमडी अजय कुमार भारती ने बताया कि इच्छुक किसानों से धान की खरीदारी की जा रही है. किसान इसके लिए उत्सुक हैं और ऑनलाइन के लिए अपना आवेदन भी दिया है. किसानों को किसी तरह की समस्या न हो इसके लिए नये निर्देश जारी किये गये हैं.
मधुबनी  न्यूज़ डेस्क

Share this story