Samachar Nama
×

Lucknow  बेहता नाला दो घंटे में तीन कारें 20 फुट नीचे गिरीं, छह घायल,हरदोई हाईवे पर पुल की टूटी रेलिंग से कार सवार गिरे, पुलिस पहुंचाती रही अस्पताल
 

Lucknow  बेहता नाला दो घंटे में तीन कारें 20 फुट नीचे गिरीं, छह घायल,हरदोई हाईवे पर पुल की टूटी रेलिंग से कार सवार गिरे, पुलिस पहुंचाती रही अस्पताल

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   लखनऊ-हरदोई हाईवे पर स्थित बेहता नाले पर पल की टूटी रेलिंग जानलेवा साबित हो रही है. शुक्रवार तड़के यहां दो घंटे के भीतर तीन कार सवार वाहन समेत 20 फुट गहरे नाले में गिर गए. हादसे में कार सवार मासूम समेत छह लोग घायल हो गए. पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां प्राथमिक इलाज के बाद सभी छुट्टी दे दी गईं लेकिन कारें नहीं निकाली जा सकीं.

रहीमाबाद चौकी इंचार्ज कुलदीप सिंह ने बताया कि शुक्रवार तड़के करीब 330 बजे हरदोई से आ रही एक कार अनियंत्रित होकर बेहता नाले में गिरने की सूचना मिली. मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने कार समेत 20 फीट गहरे गड्ढे में फंसे चारबाग निवासी कमलेश तिवारी को बाहर निलवाया. करीब एक घंटे के भीतर ही दूसरी कार के भी नाले में गिरने की खबर आई. इसमें हरदोई निवासी सिराज उनकी पत्नी और मासूम बच्चे थे. सभी को नाले से निकाला गया और तीनों घायलों को अस्पताल भेजा गया. हल्की चोटें होने से प्राथमिक उपचार के बाद तीनों को छुट्टी दे दी गई. सुबह करीब पांच बजे तीसरी कार नाले में गिरी. इसमें दो लोग सवार थे, जिन्हें मामूली चोटें आईं. 20 फुट गहरे नाले में गिरी कारें रात में नहीं निकल पाईं. सभी कार सवार छोड़कर चले गए. बाद में क्रेन से कारों को बाहर निकाला गया.
हाईवे चौड़ा कर दिया, संकरा पुल रेलिंगविहीन लखनऊ-हरदोई रोड को वर्ष 2018 में नेशनल हाईवे घोषित किया गया था. इसके बाद दोनों हाईवे चौड़ा कर दिया गया, लेकिन हरदोई से लखनऊ की ओर आने वाली लेन पर तरौना के बास बेहता नाले पर बना पुल संकरा रह गया. इसके साथ पुल की रेलिंग भी टूट गई है.
यही वजह है कि हरदोई की ओर से तेज रफ्तार वाहन जब तरौना पुल पर पहुंचते हैं तो सड़क की चौड़ाई कम हो जाती है. रेलिंगविहीन संकरे पुल से पार करते वक्त अक्सर वाहन अनियंत्रित होकर नाले में गिर जाते हैं. साथ ही रोड पर बने गड्ढे भी अधिकांश बार हादसे का कारण बनते हैं. इसके बावजूद जिम्मेदार महकमे आंखें मूंदे हैं.


लखनऊ न्यूज़ डेस्क
 

Share this story