Samachar Nama
×

Lucknow  अवध चौराहा, मुंशी पुलिया और कमता को फिर कसने लगा जाम, अवैध ऑटो- टेम्पो और ई-रिक्शा स्टैंड से बाधित हो रहा यातायात, फ्लाईओवर निर्माण के चलते भी बढ़ी मुसीबत
 

Lucknow  अवध चौराहा, मुंशी पुलिया और कमता को फिर कसने लगा जाम, अवैध ऑटो- टेम्पो और ई-रिक्शा स्टैंड से बाधित हो रहा यातायात, फ्लाईओवर निर्माण के चलते भी बढ़ी मुसीबत


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   कमता, पॉलीटेक्निक, मुंशीपुलिया, खुर्रमनगर और अवध चौराहे पर जाम की समस्या जस की तस है. पॉलीटेक्निक और अवध चौराहे पर अवैध ऑटो और ई-रिक्शा स्टैंड के कारण रोज जाम लग रहा है. कमता, मुंशीपुलिया और खुर्रमनगर चौराहे पर फ्लाईओवर निर्माण व सड़क चौड़ीकरण से रास्ता काफी संकरा हो गया. इससे गुरुवार शाम छह बजे से रात नौ बजे तक वाहन चालकों को जाम में काफी जूझना पड़ा.
पॉलीटेक्निक चौराहे से इंजीनियरिंग कॉलेज रूट होकर आईआईएम तिराहा तक की दूरी 8.6 किमी है. इस दूरी को तय करने में एक घंटे लग रहे क्योंकि मुंशीपुलिया, खुर्रमनगर फ्लाईओवर निर्माण के कारण रास्ता संकरा हो गया. वहीं कमता फ्लाईओवर के पास सड़क चौड़ीकरण को लेकर एनएचएआई ने करीब 300 मीटर तक खुदाई कर दी. इससे इस्माइलगंज से चिनहट की तरफ जाने वाले मार्ग पर जाम से लोग जूझे.
अवध चौराहा नोएंट्री से गुजर रहीं ट्रक, निजी बसें

अवध चौराहे पर फिर जाम लगने लगा है. नोएंट्री के वक्त सीमेंट लदे ट्रक, सब्जियों के वाहन और ट्रैवेल एजेंसियों की लग्जरी बसों के गुजरने से पूरा चौराहा हमेशा जाम की चपेट में रहता है. सुबह 9 बजे से 11 बजे तक सिग्नल रेड होने पर हर लेन में आधा किलोमीटर तक वाहनों की कतार लग जाती है. स्थिति यह है कि एक बार के ग्रीन सिग्नल में कई वाहन पार ही नहीं हो पाते. कमोबेश यही स्थिति कानपुर रोड, आलमबाग तथा तेलीबाग की ओर से आने वाली लेन की भी है. वजह साफ है कि ट्रक को चौराहा क्रास करने में वक्त लगता है. पीछे फंसे वाहन सवार निकल नहीं पाते. वाहन चालकों के मुताबिक आगरा एक्सप्रेस-वे होते हुए दिल्ली से लखनऊ पहुंचना आसान है, लेकिन यहां एक्सप्रेस-वे से उतरकर मोहान होते हुए पारा में पुराने थाने के पास उल्टी दिशा से टैम्पो, ट्रैक्टर घुसने से रोज जाम लगता है.  भी लोग यहां जाम से जंग लड़ते रहे.
कमता फ्लाईओवर के नीचे पैचवर्क के बाद छोड़ी गिट्टी
एनएचएआई ने कमता फ्लाईओवर पर पिछले सप्ताह पैचवर्क कराया था. फ्लाईओवर के नीचे गिट्टियों का ढेर लगा दिया. धीरे-धीरे गिट्टी हाईवे तक फैल गईं. इससे तेज गति से आ रहे दोपहिया वाहन चालकों दिक्कत के साथ जाम भी लग रहा.
पॉलीटेक्निक हर वक्त ऑटो-टेम्पो का कब्जा
पॉलीटेक्निक से गोमतीनगर वाले रास्ते पर चौराहा पार करते ही बाईं ओर ऑटो-टेम्पो और ई-रिक्शा के कारण ट्रैफिक रुक जाता है. इस कारण एक बार में सभी वाहन नहीं निकल पा रहें हैं. 15-20 ऑटो, ई-रिक्शा और टेम्पो खड़े रहते हैं. अयोध्या रोड पर फ्लाईओवर से पहले बड़ी संख्या में ऑटो, ई-रिक्शा रुके दिखाई दिए. नतीजतन गाड़ियों की कतारें नजर आई.
चौराहों पर फिर से अभियान चलाया जाएगा. जिलाधिकारी की ओर से भी निर्देश दिए गए हैं. ट्रैफिक पुलिस, नगर निगम व परिवहन विभाग मिलकर अतिक्रमण, अवैध पार्किंग के खिलाफ अभियान चलाएंगे.
अजय कुमार, एडीसीपी, ट्रैफिक


लखनऊ न्यूज़ डेस्क

Share this story