Samachar Nama
×

Kanpur  बारिश से बचने के लिए खड़े थे और चली गई जान
 

Kanpur  बारिश से बचने के लिए खड़े थे और चली गई जान


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  दोपहर बड़ा चौराहा पर इंडियन बैंक की चारदीवारी गिरने से एक महिला समेत तीन लोगों की मौत हो गई। हादसे में सात लोग घायल हो गए। उनमें से एक को हॉल में भर्ती कराया गया था। हादसा उस वक्त हुआ जब राहगीर बारिश से बचने के लिए चारदीवारी के पास खड़े थे। बताया गया कि दीवार की नींव पूरी तरह से कमजोर हो गई है।

बड़ा चौराहे पर इंडियन बैंक की एक शाखा है। शाखा परिसर के चारों ओर चारदीवारी है। सड़क से करीब तीन फीट की ऊंचाई पर इंडियन बैंक का प्लेटफॉर्म है। करीब पांच फीट ऊंची चारदीवारी बनाई गई है। चारदीवारी के किनारे पेड़ हैं। दोपहर दो बजे के बीच हुई बारिश के दौरान राहगीर व रेहड़ी वाले लोग ट्रैक की चारदीवारी के पास खड़े हो गए. दीवार का बड़ा हिस्सा लोगों पर गिर गया। राहगीरों और रेहड़ी-पटरी वालों ने घायलों को मलबे से निकाला और उर्सला अस्पताल भेज दिया.

इलाज के दौरान बिरहाना रोड निवासी विनोद कुमार (50) और बाबा घाट सिविल लाइंस निवासी राधा पांडे पत्नी विक्की पांडे की मौत हो गई. उधर, बिरहाना रोड निवासी रामस्वरूप (55) की देर शाम उर्सला से हलत ले जाते समय मौत हो गई. बाबा घाट सिविल लाइंस निवासी संजय मिश्रा की बेटी रिया (16) को गंभीर हालत में हैलेट अस्पताल रेफर कर दिया गया. घटना की सूचना पर कोतवाली पुलिस के साथ डीसीपी पूर्वी प्रमोद कुमार भी पहुंचे. उन्होंने उर्सला में घायलों की देखभाल की और हर संभव मदद का आश्वासन दिया। उन्होंने बुलडोजर से मलबा अगल-बगल करवाकर सड़क खोली। नगर निगम की टीम को जर्जर चारदीवारी का संज्ञान लिया और निर्देश दिया कि भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो.

कानपूर न्यूज़ डेस्क
 

Share this story