Samachar Nama
×

jodhpur अपराध रोकने के लिए शहर में कैमरे बढ़ाना जरूरी, हमने फुटेज से ही कई मामलों का खुलासा किया
 

jodhpur अपराध रोकने के लिए शहर में कैमरे बढ़ाना जरूरी, हमने फुटेज से ही कई मामलों का खुलासा किया

राजस्थान न्यूज डेस्क,  पुलिस आयुक्त रविदत्त गौड़ ने कहा कि अपराध को कम करने और अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने की तत्काल आवश्यकता है. वैसे तो पूरे शहर में कैमरे लगा दिए गए हैं, लेकिन अभी भी कई ऐसे प्वाइंट हैं, जहां कैमरे लगाने की जरूरत है। वे गुरुवार को दैनिक भास्कर संकल्प के तहत होटल पार्क प्लाजा में आयोजित शहर में ''अपराध की रोकथाम के प्रयास'' विषय पर चर्चा में जोधपुर के प्रबुद्ध नागरिकों को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि अपराधियों को पकड़ने में सीसीटीवी कैमरों की विशेष भूमिका होती है, सीसीटीवी कैमरों की मदद से ही कई वारदातों का खुलासा हो जाता है. हालांकि कई बार रास्ते के कुछ हिस्सों में कैमरे नहीं होने के कारण अपराध से गुजर रहा अपराधी पकड़ से बाहर हो जाता है. इसलिए पुलिस विभाग ने थानावार एक ऐसी सूची तैयार की है, जिससे यह स्पष्ट होता है कि शहर में कितने कैमरों की जरूरत है.

उन्होंने दैनिक भास्कर के संकल्प के तहत शहर के बुद्धिजीवियों व समाजसेवियों से अपील करते हुए कहा कि शहर के पूर्वी व पश्चिमी क्षेत्र के सभी थानों में करीब 500 सीसीटीवी कैमरों की जरूरत है और इसमें समाजसेवी विभाग की मदद करें। . इन सभी कैमरों को अभय कमांड से जोड़ा जाएगा, ताकि अपराधियों को पकड़ने में आसानी हो।

इससे पहले दैनिक भास्कर जोधपुर को भास्कर के संकल्प और कार्यक्रम के आयोजन के उद्देश्यों की जानकारी दी गई। इस मौके पर पूर्व डीसीपी डॉ. अमृता दूहन ने कहा कि सीसीटीवी कैमरों की कमी को पूरा करने के लिए सभी के सहयोग की जरूरत है. शहर के भामाशाहों को आगे आना चाहिए, लेकिन कैमरे लगाने में सहयोग करने वालों को भी उनके रखरखाव की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।
जोधपुर न्यूज डेस्क!!!
 

Share this story