Samachar Nama
×

Jhansi  ‘बुन्देलखंड में भी उत्तराखंड की तरह देववन बनाएं’
 

Jhansi  ‘बुन्देलखंड में भी उत्तराखंड की तरह देववन बनाएं’


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय में नर्सरी और पौधरोपण प्रबंधन के बारे में छह दिवसीय प्रशिक्षण का शुभारंभ हुआ. मुख्य अतिथि निदेशक चारागाह रहे. विशिष्ट अतिथि डा अनिल शिक्षा निदेशक रहे. इन्होंने कहा कि बुन्देलखंड में भी उत्तराखंड की तरह देववन बनाएं.
रानी लक्ष्मी बाई केंद्रीय कृषि विश्वविद्याल नर्सरी व वृक्षा रोपण प्रबंधन पर छ दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू हो गया है. यह कार्यक्रम अब चलेगा. कार्यक्रम में 35 किसानों ने पंजीकरण करवाया गया है. डॉ. एम. जे. डोबरियाल उद्यानिकी व वानिकी ने प्रशिक्षण के उद्देश्य व रूपरेखा के बारे में किसानों को जानकारी दी.

विशिष्ट अतिथि डॉ. अनिल कुमार निदेशक शिक्षा ने किसानों को कृषि में पेड़ों के महत्व के बारे में बताते हुए कहा की बुन्देलखण्ड में भी उत्तराखण्ड के समान देववन बनाऐ जाए जो कि स्वास्थ्य के साथसाथ आजीविका का साधन हो. जिसमें की किसानों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी. वहीं मुख्य अतिथि डॉ. अमरेश चन्द्रा ने किसानों से अनुरोध किया कि प्रशिक्षण के माध्यम से अपनी समस्याओं कों साझा करें . कुलपति डॉ. ए. के. सिंह ने किसानों को प्रशिक्षण के लिए शुभकामनाएं दी. मंच संचालन डॉ. प्रभात तिवारी ने किया. कार्यक्रम में डॉ. गौरव शर्मा, डॉ. विनोद कुमार, डॉ. प्रियंका शर्मा, डॉ. गरिमा गुप्ता, डॉ. पवन कुमार, डॉ. पंकज लवानिया एवं आयोजन समिति के सभी मौजूद रहे.


झाँसी  न्यूज़ डेस्क

Share this story