Samachar Nama
×

Jhansi  छात्रा के परिजन वार्डन व मैटर्न पर गुस्सा,मनोचिकित्सक को दिखाकर ली थी दवाई
 

Jhansi  छात्रा के परिजन वार्डन व मैटर्न पर गुस्सा,मनोचिकित्सक को दिखाकर ली थी दवाई

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   बुन्देलखण्ड यूनिवर्सिटी की बीटेक की छात्रा सृष्टि राय के आत्महत्या प्रकरण में  झांसी पहुंचे परिजनों बेहद आक्रोशित दिख्रे. हॉस्टल पहुंचने पर उनकी वार्डन व मैर्टन से विवाद हो गया. तो वहीं यूनिवर्सिटी प्रशासन द्वारा परिजनों से माफी मांगने की बात से परिजनों ने साफ इंकार कर दिया. हंगामें की सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी प्रकार मामले को शांत कराया.

सृष्टि की मां व बहन पूजा ने आरोप लगाया कि यूनिवर्सिटी में पढ़ाई का माहौल नहीं था. इस कारण वह डिप्रेशन में थी. कहा, कि आत्महत्या से पहले उनकी सृष्टि से बात हुई थी तब भी वह डिप्रेशन में थी. मैटर्न से जब बात कर बेटी को देखने की बात की तो उसने कमरे पर जाने से मना कर दिया. वार्डन पर भी आरोप लगाये. इधर डॉक्टरों के पैनल से सृष्टि का पोस्टमार्टम किया. जहां मौत का कारण फांसी बताया गया है. परिजन शव का अंतिम संस्कार कराने वाराणसी लेकर गये है.
सृष्टि के पास से मिले पर्चें की जांच में पाया गया है कि वह डिप्रेशन की शिकार थी. उसने मेडिकल कालेज में मनोचिकित्सक को दिखाकर जांच कराई थी. जहां उसे डॉक्टर ने दवा लिखकर दी थी. यहीं दवा व पर्चा पुलिस ने कमरे से बरामद किया था.का हॉस्टल पहुंचने पर हंगामा मच गया.


झाँसी  न्यूज़ डेस्क
 

Share this story