Samachar Nama
×

Jamshedpur पुलिस- मजिस्ट्रेट के सामने तोड़ा गया सहारा सोसाइटी का ताला
 

Jamshedpur पुलिस- मजिस्ट्रेट के सामने तोड़ा गया सहारा सोसाइटी का ताला


झारखण्ड न्यूज़ डेस्क, घोड़ाबांधा के 128 फ्लैट वाले सहारा ड्रीम्स नेस्ट सोसाइटी के मुख्य द्वार पर लगे ताले को तीसरे दिन  मजिस्ट्रेट और गोविंदपुर पुलिस की मौजूदगी में तोड़ा गया. ताला तोड़वाकर गोविंदपुर थाना प्रभारी के साथ कार्यपालक दंडाधिकारी संतोष महतो ने सोसाइटी में प्रवेश किया.
सोसाइटी और वहां काम करने वाले मजदूरों से विवाद के बाद घाटशिला विधायक रामदास सोरेन ने  को गेट में ताला लगवा दिया था. इसके बाद दोनों पक्षों में तनाव हो गया था. सोसाइटी में रहने वाले लोगों ने मामले की शिकायत एसएसपी से की थी, जिसके आधार पर मजिस्ट्रेट ने पहले मामले की जांच की और फिर पुलिस की मौजूदगी में गेट का ताला तोड़वाया. मुख्य द्वार तीन दिन से बंद होने से सोसाइटी वालों को इमरजेंसी गेट से आना-जाना करना पड़ता था. म्जांच के बाद मजिस्ट्रेट ने रिपोर्ट एसडीओ को दी, जिसके बाद गेट का ताला तोड़ने का आदेश जारी किया गया.

यह है मामला 2007 से सोसाइटी चल रही है. उस समय फ्लैट का निर्माण करने वाले बिल्डर ने 9 लोगों को काम पर रखा था. सोसाइटी के गठन के बाद भी अब तक वे वहां काम कर रहे हैं. सोसाइटीवासियों का कहना है कि सारे कर्मचारियों के स्थानीय होने से वे मनमानी करते हैं. सदस्यों के साथ गाली-गलौज, मारपीट करते हैं. इसके बाद सोसाइटी के लोगों ने उन्हें काम से हटा दिया. इसके बाद विवाद बढ़ गया.
विवाद बढ़ा तो दोनों पक्षों पर हो सकती है कार्रवाई
मामले में विवाद बढ़ा तो प्रशासन दोनों पक्षों पर 107 की कार्रवाई कर सकता है, क्योंकि मामले को लेकर शांति भंग होने का खतरा है. कार्रवाई के बाद दोनों पक्ष एसडीओ समक्ष मजिस्ट्रेट के समक्ष पक्ष रखेंगे. जांच करने वाले मजिस्ट्रेट ने 107 की संभावित कार्रवाई के बारे में सोसाइटी वासियों को बताया दूसरा नाम तैयार रखने को कहा.

जमशेदपुर न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story