Samachar Nama
×

Jamshedpur फाइलों में उलझकर रह गया पिंक टॉयलेट, चैंबर ऑफ कॉमर्स ने किया था आगाज 
 

Jamshedpur फाइलों में उलझकर रह गया पिंक टॉयलेट, चैंबर ऑफ कॉमर्स ने किया था आगाज 


झारखण्ड न्यूज़ डेस्क, दिल्ली, नोएडा और रायपुर की तर्ज पर लौहनगरी में भी पिंक टॉयलेट बनाने की योजना बनाई गई थी. इसके लिए शहर के कई जगहों को चिन्हित भी किया गया था, लेकिन अबतक पिंक टॉयलेट का निर्माण नहीं हो पाया है. यह योजना निगम की फाइलों में उलझ कर रह गई है.
10 जगहों पर होना था निर्माणशहर में कुल 10 पिंक टॉयलेट का निर्माण होना था. एक टॉयलेट में 60 सीटें लगनी थी. महिलाओं के लिए खास तौर पर इस टॉयलेट का निर्माण किया जाना था, जिसमें वैनिटी रूम, चेंजिंग रूम, फिडिंग रूम के अलावा सेनेटरी पैड निष्पादन की व्यवस्था होनी थी. पहले चरण मे पिंक टॉयलेट के लिए मेरीन ड्राइव, बारीडीह, बस स्टैंड सहित अन्य जगहों को चिन्हित किया गया था.

सिंहभूम चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के सहयोग से पिछले साल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर जमशेदपुर महिला कॉलेज में महिलाओं के लिए पिंक टॉयलेट अभियान’ का आगाज किया गया था. पिंक टॉयलेट केवल महिलाओं द्वारा उपयोग किया जा सकेगा.
2020 में पिंक टॉयलेट की सौगात
शहर वासियों को मिलने वाला था. लेकिन, जो राशि तय की गई थी उस राशि में कोई भी ठेकेदार पिंक टॉयलेट बनाने को तैयार नहीं हुआ. जिसके कारण यह योजना ठंडे बस्ते में चली गई है. एक टॉयलेट सीट बनाने के लिए एक लाख 20 हजार रुपए निर्धारित की गई थी.
निकाय स्तर पर पिंक टॉयलेट की योजना नये सिरे से बनाने पर विचार किया जा रहा है. शहर में भी पिंक टॉयलेट की व्यवस्था जरूरी होगी.
संजय कुमार, विशेष पदाधिकारी, जेएनएसी

जमशेदपुर न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story