Samachar Nama
×

Jaipur चारा डिपो को सरकारी नियंत्रण में लेने की मांग निजी चारा स्टॉल व पार्किंग खुलने से दाम बढ़े-भाकियू तहसील अध्यक्ष
 

Jaipur चारा डिपो को सरकारी नियंत्रण में लेने की मांग निजी चारा स्टॉल व पार्किंग खुलने से दाम बढ़े-भाकियू तहसील अध्यक्ष

राजस्थान न्यूज डेस्क, चारे की कीमत अधिक होने से किसानों और पशुपालकों तक पहुंचने वाला पंजाब और हरियाणा का चारा चर्चा का विषय बन गया है। ऐसे में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष लक्ष्मीचंद चौधरी ने पत्रकार संगठन को ज्ञापन सौंपकर मांग की है कि पशुपालकों व किसानों की मांग सरकार व प्रशासन तक पहुंचाई जाए.

ज्ञापन में बताया गया कि हरियाणा व पंजाब से आने वाले चारा वाहन ग्राम पंचायत हाडौता में कई वर्षों से रुके हुए हैं। पूर्व में ग्राम पंचायत हाड़ौता में सरकारी पार्किंग में चारा वाहन चालकों व ठेकेदारों पर सरकारी ठेका होने के कारण चारे की खरीद-बिक्री प्रशासन की निगरानी में होती थी. जिससे किसानों व पशुपालकों को सही मूल्य पर चारा उपलब्ध हो जाता था, लेकिन विगत कई वर्षों से सरकारी ठेका न होने के कारण हाडौता ग्राम पंचायत में कई निजी चारा स्टॉल व पार्किंग स्थल खुल गए हैं, जो नियमानुसार चारा बेचते हैं. चारा चालकों की इच्छा किसानों और पशुपालकों को उनकी अपनी दरों पर खरीदें और बेचें।

इससे सरकारी खजाने को नुकसान हो रहा है। साथ ही किसानों व पशुपालकों को भी महंगा चारा मिल रहा है। ऐसे में प्रशासन व सरकार ने मामले में गंभीरता से कार्रवाई करते हुए सरकारी ठेका जारी करने की मांग की है. ताकि सभी को लाभ मिल सके।
जयपुर न्यूज डेस्क!!!

Share this story