Samachar Nama
×

Indore शहर के प्रदूषण का सही मापन करने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत होगा काम,नगर निगम शहर में 4 जगह लगाएगा प्रदूषण मापक संयंत्र, 4 करोड़ आएगा खर्च,यहां लगेंगे प्रदूषण मापक सिस्टम
 

Indore शहर के प्रदूषण का सही मापन करने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत होगा काम,नगर निगम शहर में 4 जगह लगाएगा प्रदूषण मापक संयंत्र, 4 करोड़ आएगा खर्च,यहां लगेंगे प्रदूषण मापक सिस्टम

मध्यप्रदेश न्यूज़ डेस्क, शहर की आबोहवा के बारे में अब शहर के लोग अनजान नहीं रहेंगे. पूरे शहर के प्रदूषण की वास्तविकता के बारे में अब 24 घंटे ऑनलाइन एलईडी डिस्पले पर जानकारी मिलती रहेगी. इसके लिए नगर निगम शहर में 4 जगहों पर प्रदूषण मापक सिस्टम लगाएगा. एक सिस्टम लगाने का खर्च एक करोड़ से अधिक होगा. यह काम स्वच्छ भारत मिशन के तहत किया जाएगा. अभी मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के रीगल तिराहे पर लगे एक ही सिस्टम से आधे शहर में एक जगह के आंकड़े ही दिखाए जा रहे हैं. ऐसे में शहर के क्षेत्रफल, आबादी, ट्रैफिक व इंडस्ट्री को देखते हुए रीगल तिराहे के अलावा अन्य जगहों के प्रदूषण की स्थिति भी जानना स्वास्थ के लिए महत्वपूर्ण है, जिससे शहर के प्रदूषण को कम करने योजना बनाकर काम किए जा सके.

विजय नगर
यह शहर के मुख्य चौराहों में आता है. कॉलोनियों व बिजनेस क्षेत्र होने से भी वाहनों का दबाव है. दिनभर धूल उड़ती है. धुएं से भी लोग परेशान रहते हैं. पीएम 2.5 व पीएम 10 का स्तर बढ़े रहने की संभावना ज्यादा रहती है. यहां प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सिस्टम लगाने की बात करता रहा है, अब निगम ने इसे लिस्ट में शामिल किया है.
सियागंज
यहां हजारों वाहनों का ट्रैफिक रहता है. लोडिंग वाहन ज्यादा होने से धुएं व धूल का स्तर ज्यादा है. प्रदूषण मापक सिस्टम नहीं होने से स्थिति की जानकारी से व्यापारी अनजान हैं. यहां पीएम 2.5 का स्तर ज्यादा हो सकता है, जिससे कई समस्याएं होती है.
नगर निगम पहले चरण में अभी सियागंज, विजय नगर, राजबाड़ा, इंडस्ट्री एरिया पर ऑनलाइन प्रदूषण मापक सिस्टम लगाएगा. यहां एलईडी से 24 घंटे ऑनलाइन प्रदूषण के आंकड़े दिखाए जाएंगे. सिस्टम की रेंज में आने वाले आसपास के प्रमुख क्षेत्र व चौराहों पर भी डिस्पले लगेंगे. ऐसे में अब शहर के इन प्रमुख जगहों के प्रदूषण स्तर की भी जानकारी लोगों को मिलने लगेगी.
स्वच्छ भारत मिशन के तहत निगम शहर में चार जगहों पर ऑनलाइन प्रदूषण मापक सिस्टम लगाएगा. एक सिस्टम पर एक करोड़ से अधिक का खर्च आएगा. अभी राजबाड़ा, सियागंज, विजय नगर व इंडस्ट्री एरिया में सिस्टम लगाए जाएंगे. जल्द सर्वे का काम शुरू होगा, फिर टेंडर निकाले जाएंगे. - गजल खन्ना, असिस्टेंट इंजीनियर, स्वच्छ भारत मिशन

इंदौर न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story